चुनाव आयोग ने The Quint के दावे को झुठलाया, कहा सारे वोट इंसानों ने डाले हैं, कोई भूत नहीं

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
मीडिया Published On :

Reuters Photo


केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने हाल में बीते आम चुनावों में फर्जी वोटरों संबंधित मीडिया मे आई रिपोर्टों को बेबुनियाद बताते हुए कहा है कि ऐसे दावे आयोग की वेबसाइट पर दर्ज अंतरिम वोटर टर्नआउट डेटा पर आधारित हैं, इसलिए गलत हैं।

एक बयान जारी करते हुए चुनाव आयोग ने कहा कि उसकी वेबसाइट पर वोटरों की संख्‍या अभी अंतरिम है, अंतिम नहीं। आखिरी संख्‍या कुछ दिन में अपलोड कर दी जाएगी।

अभी दो दिन पहले मीडिया में इस आशय की रिपोर्ट आई थी कि लोकसभा चुनाव के लिए मतदान में कई सीटो पर मतदाताओं की वास्‍तविक संख्‍या और कुल टर्नआउट में गड़बडि़यां पाई गई हैं।

दि क्विंट नाम की वेबसाइट ने अपने अध्‍ययन के आधार पर रिपोर्ट किया था कि 373 लोकसभा क्षेत्रों में इस तरह की गड़बडि़यां पाई गई हैं।

इस रिपोर्ट को मीडिया ले उड़ा था और क्विंट की रिपोर्ट को चौतफा प्रकाशित किया गया था।

आयोग ने साफ़ कहा है कि ऐसी रिपोर्टों में आई ‘’घोस्‍ट वोटर’’ की बात गलत है। सारे वोट इंसानों ने डाले हैं। उसने बताया कि पिछले आम चुनाव में भी सभी मतदाताओं के आंकड़े जुटाने में नतीजों के बाद दो-मीन महीने का वक्‍त लग गया था।

इस बार हालांकि आयोग द्वारा अपनाई गई आधुनिक प्रौद्योगिकी के चलते यह काम थोड़ा जल्‍दी हो जाने की संभावना है।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।