भारतीय न्‍यूज़ चैनलों पर गाली खाने के लिए पाकिस्‍तानियों को मिलने वाला पैसा किसके खाते में जाता है

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
अभी-अभी Published On :


विश्‍वदीपक

पाकिस्‍तान के अवकाश प्राप्‍त कूटनीतिज्ञ, सैन्‍य अफ़सर और जानकार भारत के टीवी चैनलों पर हर दिन बेइज्‍जत होने, शर्मसार होने और गाली खाने क्‍यों आते हैं? इसकी एक वजह तो यह बताई जाती है कि चूंकि ये भारतीय चैनल पाकिस्‍तान में नहीं देखे जाते क्‍योंकि वे वहां उपलब्‍ध नहीं हैं, लिहाजा इन लोगों को घरेलू स्‍तर पर किसी प्रतिक्रिया का डर नहीं होता। दूसरी बात यह है कि उनहें हमेशा किसी ऐसे मंच की तलाश रहती है जहां किसी न किसी तरह वे अपना पक्ष रख सकें।

अब हालांकि ऐंकर और पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने इस बात की ताक़ीद कर दी है जिस पर काफी लंबे समय से अटकलें लगाई जा रही थीं। वो यह, कि भारत के समाचार चैनल पाकिस्‍तानी अतिथियों को डॉलर में भारी राशि का भुगतान करते हैं।

सरदेसाई ने एक पोस्‍ट लिखी है जिसमें उन्‍होंने दावा किया है कि वे उस बैंक खाते के बारे में जानते हैं जिसमें यह पैसा जमा करवाया जाता है और यह खाता किसी तारिक़ पीरज़ादा के नाम से है। इस खुलासे ने हड़कंप मचा दिया है। सरदेसाई ने कहा है कि खुद को राष्‍ट्रवादी कहने वाले चैनलों की ओर से सबसे ज्‍यादा राशि का भुगतान किया जाता है।


nationalheraldindia.com से साभार


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।