राष्‍ट्रीय प्रेस दिवस पर राजस्‍थान पत्रिका में संपादकीय की जगह खाली बक्‍सा, वसुंधरा पर असर नहीं

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
अभी-अभी Published On :

IANS/Ravi Shankar Vyas


राष्‍ट्रीय प्रेस दिवस पर गुरुवार को राजस्‍थान पत्रिका ने अपने संपादकीय पन्‍ने पर संपादकीय की जगह खाली छोड़ दी है। संपादकीय की जगह केवल काले रंग की पट्टी से जगह को घेर दिया गया है। अख़बार ने ऐसा कदम वसुंधरा राजे की सरकार द्वारा लाए गए आपराधिक कानून संशोधन विधेयक के विरोध में किया है जिसका लक्ष्‍य मीडिया का मुंह बंद करवाना है।

----Rajasthan-Patrika-Jaipur-page-10

कुछ दिनों पहले ही अखबार ने राजस्‍थान की मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे से जुड़ी खबरों के बहिष्‍कार का एलान किया था। उसके बाद से ही 1 नवंबर से लगातार यह अखबार अपने पहले पन्‍ने पर एक ताला बना रहा है। अपने अग्रलेख में अखबार के प्रधन संपादक गुलाब कोठारी ने विधेयक के विरोध में नारा दिया था, ”जब तक काला, तब तक ताला”।

उन्‍होंने इस अध्‍यादेश के लाए जाने के बाद इसे ”काला कानून” करार दिया था और लिखा था कि जब तक इसे हटाया नहीं जाएगा, अख़बार सरकार का बहिष्‍कार करता रहेगा।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।