Home Corona कोरोना विस्फोट: ईरान को पीछे छोड़ टॉप 10 सूची में पहुँचा भारत...

कोरोना विस्फोट: ईरान को पीछे छोड़ टॉप 10 सूची में पहुँचा भारत !

अब तक 24 घंटों में कोरोना मामलों में सर्वाधिक बढ़त के साथ, सरकार का वो दावा भी धज्जियां होकर बिखर गया है, जिसमें 16 मई तक कोरोना संक्रमण पर काबू पा लेने की बात थी। पढ़िए पिछले 24 घंटों के ताजा कोरोना आंकड़ों पर मयंक सक्सेना का विश्लेषण

SHARE

सरकार के सारे दावों, लॉकडाउन के दो महीनों और दुनिया भर को दवाएं निर्यात कर लेने की घोषणाओं के बावजूद, भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों का बढ़ते जाना थम नहीं रहा। पिछले 24 घंटों के नए कोरोना संक्रमण के मामले, अब तक के सबसे ज़्यादा एक दिन में नए कोरोना संक्रमण के मामले हैं। 24 मई की रात 11 बजकर 43 मिनट के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में 7,111 नए कोरोना संक्रमण के मामले आ चुके थे। इसके साथ ही भारत में कोरोना संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 1 लाख, 38 हज़ार से ऊपर चली गई थी। भारत कोरोना मामलों के लिहाज से दुनिया में दसवें नंबर पर आ गया है। जबकि कोरोना का शिकार बना ईरान ग्यारहवें नंबर है। पहले नंबर पर अमेरिका बना हुआ है। 

24 मई, 2020 को रात 11.43 तक के कोरोना संक्रमण आंकड़े

इन आंकड़ों के साथ ही भारत दुनिया में सर्वाधिक कोरोना प्रभावित देशों की सूची में पहले 10 स्थान में पहुंच गया है, जो कि बेहद चिंताजनक बात है। क्योंकि दरअसल ये वो देश हैं, जो कम्युनिटी ट्रांसफर की स्टेज भी पार कर गए हैं। यानी कि इन देशों में या तो स्थिति सुधार की ओर 1 महीने पहले ही जा चुकी है या फिर यहां कोरोना संक्रमण अब अनियंत्रित हो चुका है। भारत से पहले 10वें पायदान पर ईरान था, जो कि अब 11वें स्थान पर आ गया है। 

कोरोना से 10 सर्वाधिक प्रभावित देश

दरअसल भारत में कोरोना संक्रमण के कर्व को देखें, तो इस दावे को बल मिलता है कि हम भयावह स्थिति की ओर बढ़ते जा रहे हैं। हमारा कोरोना कर्व लगभग वैसा ही है, जैसा 1 महीने पहले सर्वाधिक कोरोना प्रभावित देशों का था, सच ये भी है कि हमने परीक्षण भी काफी देर में जाकर बड़ी संख्या में शुरु किए।

भारत का ताज़ा कोरोना कर्व

दरअसल ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, एशिया में भारत – कोरोना मामलों में सबसे भयानक स्थिति का सामना कर रहा है। सबसे तेज़ी से बढ़ते मामलों की तुलना करें, तो एशिया में भारत में कोरोना केस सबसे तेज़ी से बढ़े हैं।

एशिया के आंकड़ों में भारत में कोरोना मामलों की बढ़त की तुलना

अब तक 24 घंटों में कोरोना मामलों में सर्वाधिक बढ़त के साथ, सरकार का वो दावा भी धज्जियां होकर बिखर गया है, जिसमें 16 मई तक कोरोना संक्रमण पर काबू पा लेने की बात थी। सबसे ज़्यादा नए मामले एक बार फिर से महाराष्ट्र में आए हैं, लेकिन ये भी सच है कि सबसे ज़्यादा कोरोना टेस्ट भी प्रतिदिन महाराष्ट्र में ही हो रहे हैं। नंबर दो पर तमिलनाडु है और नंबर 3 पर गुजरात ही है। हालांकि गुजरात के कोरोना आंकड़ों को लेकर काफी कुछ गुजरात हाईकोर्ट कह चुका है। लेकिन हम कुछ ही देर में अपनी अगली स्पेशल स्टोरी में गुजरात पर बात करने वाले हैं।

महाराष्ट्र के नए आंकड़े

भारत को हर रोज़ का नए कोरोना संक्रमण और एक्टिव केसों का डेटा, एक लगातार ऊपर जाती संख्या की ओर इशारा कर रहा है। इसके साथ ही न केवल लगातार असल कोरोना आंकड़ों को छुपाए जाने के आरोप लग रहे हैं, ये भी एक सच है कि अभी भी ज़्यादातर राज्य पर्याप्त संख्या में कोरोना परीक्षण नहीं कर रहे हैं।

प्रतिदिन नए केस और रिकवरी का तुलनात्मक ग्राफ

हालांकि एक बात निश्चित रूप से सकरात्मक है कि देश में फिलहाल कोरोना संक्रमितों का रिकवरी रेट 35 फीसदी के ऊपर है – जो कि दुनिया में सर्वाधिक है। लेकिन दरअसल इस आंकड़े का भी सही अर्थ तभी पता चलेगा, जब हमारे राज्यों में टेस्ट्स की संख्या बढ़ेगी।


हमारी ख़बरें Telegram पर पाने के लिए हमारी ब्रॉडकास्ट सूची में, नीचे दिए गए लिंक के ज़रिए आप शामिल हो सकते हैं। ये एक आसान तरीका है, जिससे आप लगातार अपने मोबाइल पर हमारी ख़बरें पा सकते हैं।  

इस लिंक पर क्लिक करें

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.