कर्जमाफी से नाराज महाराष्ट्र के किसान फिर सड़क पर, करेंगे विधानसभा का घेराव

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
अभी-अभी Published On :


महाराष्ट्र के किसान एक बार फिर कृषि कर्जमाफी सहित दूसरी मांगों को लेकर सड़क पर उतर आए हैं। किसानों का कहना है कि सरकार ने उनके खिलाफ  वादाखिलाफी की है। इस बार उन्होंने नासिक से मुंबई तक 180 किमी लंबी पदयात्रा के बाद मांग न पूरी होने तक महाराष्ट्र विधानसभा का घेराव करने का फैसला किया है।

महाराष्ट्र के आंदोलनरत किसान बीते साल राज्य सरकार की कृषि कर्जमाफी से असंतुष्ट हैं। वे कृषि कर्ज और बिजली का बकाया बिल पूरी तरह माफ किए जाने के साथ स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करने की मांग कर रहे हैं।

आन्दोलन का नेतृत्व कर रहे भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक धवले, स्थानीय विधायक जेपी गावित और अन्य नेता कर रहे हैं. इसमें अभी 25 हजार किसान शामिल बताए जा रहे हैं. राजू देसले के मुताबिक बीते साल सशर्त कृषि कर्जमाफी के बावजूद महाराष्ट्र में किसानों की खुदकुशी जारी है। उन्होंने दावा किया कि बीते साल जून से अब तक राज्य में 1,753 किसान आत्महत्या कर चुके हैं।

पदयात्रा से पहले किसान नेता सुनील मुलसरे ने कहा था, ‘हम लोग चाहते हैं कि सरकार सुपर हाईवे या बुलेट ट्रेन जैसी विकास परियोजनाओं के नाम पर किसानों की जमीन जबरन छीनने से बचे।’ उधर, इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक धवले ने नदी जोड़ने की परियोजना में जरूरी बदलाव करने की मांग की है, ताकि नासिक, ठाणे और पालघर में आदिवासी गांवों को पानी में डूबने से बचाया जा सके।

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।