Home पड़ताल ठेकेदार है ओवैसी, मुसलमानों की एक पार्टी का मतलब नहीं-अफ़ज़ाल अंसारी

ठेकेदार है ओवैसी, मुसलमानों की एक पार्टी का मतलब नहीं-अफ़ज़ाल अंसारी

SHARE

इस चुनाव के बाद भाजपा सर पटक कर मर जाएगी” : अफ़ज़ाल अंसारी

उत्‍तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में आखिरी दौर के मतदान को केवल एक दिन बचा है। चुनाव प्रचार थम चुका है। ज़मीन पर सन्‍नाटा है। जिसे जितना बोलना था, वो बोलकर जा चुका है। कौन जीतेगा और कौन हारेगा, यह सवाल 11 मार्च को हल होगा लेकिन पूर्वांचल में एक ख़ानदान ऐसा है जो अपनी पराजय में भी जयको देख रहा है। ग़ाज़ीपुर की मोहम्‍मदाबाद सीट पर इस ख़ानदान का सबसे उम्रदार शख्‍स बसपा से खड़ा है- सिबग़तुल्‍ला अंसारी। मऊ से कुख्‍यात मुख्‍़तार अंसारी खड़े हैं तो घोसी से चुनाव मैदान में उनके सुपुत्र दाँव आज़मा रहे हैं। मुख्‍़तार फि़लहाल लखनऊ जेल में हैं, लिहाज़ा तीनों सीटों के प्रचार का जिम्‍मा तीसरे भाई अफ़ज़ाल अंसारी के सिर पर है। अफ़ज़ाल न केवल खानदान की तीन सीटों के लिए सोमवार शाम तक लगे रहे बल्कि उनके जिम्‍मे पूर्वांचल के मुसलमान वोट भी हैं और अपने ख़ानदान की प्रतिष्‍ठा भी, जिसका कम्‍युनिस्‍ट अतीत आज़ादी के आंदोलन से होता हुआ माफ़िया की छाया से गुज़र चुका है। इन चुनावों में अंसारी बंधुओं की भूमिका की अहमियत इस बात से समझी जा सकती है कि खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने भाषणों में मुख्‍़तार का जिक्र करना पड़ा है और अंसारी बंधुओं के प्रभावक्षेत्र में सपा और भाजपा मिलकर उन्‍हें हराने की रणनीति पर काम करते रहे। कहा जा रहा है कि चुनाव परिणाम अगर बसपा के पक्ष में आए तो बहुमत के लिए विधायक जुटाने की जिम्‍मेदारी भी अफ़ज़ाल के कंधे पर ही आने वाली है। उनके दादा डॉ.मुख़्तार अहमद अंसारी (जिनके नाम पर दिल्ली के दरियागंज में अंसारी रोड है) कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे और नाना, ‘नौशेरा के शेर’ महावीर चक्र विजेता ब्रिगेडियर उस्मान ने कश्मीर बचाने के लिए पाकिस्तान से लड़ते हुए शहादत दी थी, पर अब वे महज़ माफ़िया जाने जाते हैं !

इस व्‍यापक संदर्भ में बसपा के लिए पूर्वांचल में चुनाव की कमान संभाले  अफ़ज़ाल अंसारी क्‍या सोचते हैं, यह जानना काफ़ी अहम होगा। अभिषेक श्रीवास्‍तव ने उनसे मोहम्‍मदाबाद स्थित उनके निजी आवास पर लंबी बातचीत की है। उत्‍तर प्रदेश की सियासत को समझने के लिए यह साक्षात्‍कार पढ़ा जाना ज़रूरी है।
क्‍या आपको भरोसा है कि बसपा की सरकार आ रही है?

देखिए मैं तो यही कहूंगा कि पूर्ण बहुमत की सरकार आ रही है। हम मानते हैं कि हमसे बेहतर आप देख रहे हैं क्‍योंकि आप उत्‍तर प्रदेश घूम रहे हैं। मैं तो सीमित क्षेत्र में घूम रहा हूं। ड्यूटी कर रहा हूं पार्टी की। उम्‍मीद है, कल्‍पना है और कामना है कि बसपा की सरकार आनी चाहिए लेकिन जब तक मतगणना न हो जाए तब तक क्‍या कहूँ।

पार्टी का कोई आँतरिक आकलन?

जो मालिक लोग हैं वो करते होंगे। हमारे जैसे औक़ात के कार्यकर्ता केवल प्रचार करते हैं। आपको यह महसूस हुआ होगा कि पहले दौर में बीएसपी आगे है। बीजेपी जात-वात का विरोध करती है लेकिन उसने अतिपिछड़ी जातियों में काफी कोशिश की है। उसकी वजह से वे काफी पीछे चले गए। दूसरे दौर में सुधार हुआ है बसपा की स्थिति में, इसमें भी हम ही अव्‍वल हैं। तीसरे दौर में सपा का प्रदर्शन आधे से भी कम है। पहले दो दौर में तो वैसे ही सपा कमज़ोर थी। इसमें भी बीजेपी हमसे नीचे है। चौथे दौर में बुंदेलखंड में सपा साफ हो गई है। इसमें बीजेपी हमसे लड़ी है, सपा से नहीं। पांचवें दौर में उम्‍मीद बहुत ज्‍यादा सपा के पक्ष की थी, लेकिन इस बार भाजपा वो दौर जीत रही है। सपा पहले के मुकाबले कम हो रही है। मुझे लगता है कि इस दौर में हम सपा के बराबर में हैं। छठा दौर 49 सीटों का है। घाघरा उस पार योगी का क्षेत्र है। इसमें इतना है कि हमसे जीत नहीं सकेगी भाजपा। उधर से वो बढ़ के भी आए तो घाघरा इस पार में हम चार सीट में उसकी औकात नाप देंगे। सातवें दौर में तो प्रधानमंत्री ही उतर गए हैं। क्‍या कर दें चमत्‍कार पता नहीं। यहां वे जातीय समीकरण पर भरोसा कर रहे हैं।

मतलब सेंध लगाई है भाजपा ने पिछड़ी जातियों में?

सेंध नहीं लगाई… पटेल में सेंध नहीं लगा पाए। केवल 25 फीसदी। मौर्या में 80 फीसदी। राजभर में 75 फीसदी। निषाद में भी 70 फीसदी। बहुत से लोग ऐसी बात कहने की कोशिश करते हैं ताकि नतीजे आने के बाद वे सही रहें। जैसे, बिंद की संख्‍या 65000 है लेकिन 45000 बताई जा रही है। अब अगर वो जीत जाएँ तो अपने सिर सेहरा बाँध लेंगे।

जब सपा और कांग्रेस का गठबंधन हुआ था तो बसपा का कार्यकर्ता मान रहा था कि सरकार बनना मुश्किल है, लेकिन अब बसपा मज़बूत दिख रही है। आख़िर इस बीच बदलाव क्‍या हुआ ?

शुरू से मीडिया की निगाह बसपा के लिए अपने दिल की बात सुनती रही। मेरा मशविरा है कि अब मीडिया को रिव्‍यू करना चाहिए क्‍योंकि अब सपा लडाई में नहीं है। ऐसा क्‍यों हुआ, इसके कारण बहुत से हो सकते हैं। बसपा का अच्‍छा संगठन है, मज़बूत जनाधार है, समाजवादी पार्टी पारिवारिक झगड़ों में ऐसे उलझ गई कि बहुत से लोगों का भरोसा टूटा। इस बार लोग मान रहे हैं कि ये समाजवादी पार्टी वो समाजवादी पार्टी नहीं है। इसने उसका नाम और निशान चुरा लिया है। ये मुलायम सिंह की पार्टी नहीं रह गई है। चौधरी चरण सिंह के बाद किसानों की आवाज सबसे मजबूती से मुलायम सिंह ने उठाई है। जब यूपी का चुनाव शिखर पर हो और मुलायम सिंह जैसा नेता सीन से गायब हो, तो लोग उसकी वजह ढूंढते हैं। इसकी वजह खुद उनके सुपुत्र हैं, युवा जोश है। मुलायम सिंह की जैसी दुर्गति हुई है, उसका खमियाज़ा अखिलेश को भुगतना पड़ रहा है। वो समझते हैं कि मुलायम के बिन भी हम सब कुछ हैं। मुलायम के बगैर वे कुछ नहीं है। अब तक वे सत्‍ता में थे तो उनका जलवा था। 11 के बाद यह जलवा भी खत्‍म होगा और फिर से एक बार समाजवादी पार्टी एक नए बिखराव की तरफ़ बढ़ेगी। अखिलेश यादव के बस का नहीं है। परिवार भी टूटेगा और पार्टी फिर से टूटेगी। कई लोगों को इन्‍होंने टिकट दिया है और हराने का इंतज़ाम भी कर दिया है।

क्‍या ऐसा हो रहा है वाकई…

क्‍यों नहीं… इसी गाज़ीपुर जिले में जाइए जमानिया। ओमप्रकाश सिंह का गला काटने की पूरी तैयारी है। क्‍या दिशा है? किस मुंह से कहोगे कि समाज में, प्रदेश की राजनीति में, कि मैं भाजपा से लड़ूंगा? अभी तो केवल दीवार दरकी है। गिरी नहीं, गिर जाएगी। मोहम्‍मदाबाद की सीट खुला नमूना है। पूरी सपा भाजपा के लिए वोट मांग रही है। आप जिससे चाहे पूछ लीजिए। सपा का जो जनाधार है भाजपा पर चढ़ाओ, यही चुनउवे है, और क्‍या है। और क्‍या चुनाव है?

एक शेर है- तारीख़ ने देखी हैं ऐसी भी कई घडि़याँ, लम्हों ने ख़ता की थी सदियों ने सज़ा पाई। गुनाह तो इतना हो रहा है, लेकिन इस गुनाह का ज़हर फैलेगा बहुत दूर तक। अव्‍वल तो मैं कोशिश करूंगा इस सीट को बचा लिया जाए और अगर नहीं भी बचेगी तो हम मिटते-मिटते इनको मिटा देंगे।

मतलब समाजवाद का किला गया…

लड़ाई भाजपा और बसपा के बीच है। सपा तीसरे नंबर पर है। छठे और सातवें वोट में हम लोगों को दरकिनार करने की वजह से जितना भी इनका वोट बढ़ा हो, लेकिन पांच के बाद इनकी कमर टूट चुकी है। धरातल पर असलियत आप देख नहीं रहे हैं? चाल, चरित्र, चेहरे की बात करने वाले बीजेपी के लोग मुलायम सिंह के खिलाफ़ चंबल घाटी के सबसे दुर्दांत डाकू तहसीलदार सिंह को अपना कैंडीडेट बना सकते हैं, लेकिन बात बड़ी-बड़ी। मैं पूछता हूँ, इनके राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष का चरित्र साफ़ है? मुकदमा छूट गया लेकिन अपराध का इतिहास पीछा छोड़ेगा नहीं मरते दम तक… इनका प्रदेश का अध्‍यक्ष जो लाया गया, उसका चेहरा दागी नहीं है ? दूसरों पर कीचड़ फेंक देने से आप पाक-साफ़ नहीं माने जाते। चालाकी है, मक्‍कारी है, और वो ये है कि अतिपिछड़े वर्ग को एक बार चारा डाल कर फँसाओ। एक बार तो फँसेगा। अगली बार वो सोचेगा कि कहाँ वोट कर दिए, क्‍योंकि वो ठगाएगा। फिर अगली बार भागेगा कि किससे पाला पड़ा था।

भाजपा जो ओबीसी को चारा डालकर फँसा रही है, बसपा उससे कैसे निपट रही है?

अब निपटने का वक्‍त नहीं रह गया.. अपना-अपना वोट है सबका। अब समय नहीं बचा।

यूपी की सामाजिक न्‍याय की राजनीति आगे के वर्षों में भाजपा से कैसे लड़ेगी?

मोदीजी इस देश में आरएसएस का एजेंडा लागू करना चाहते हैं। कुछ नया करने के लिए कानून बनाना होगा। कानून बनाने के लिए लोकसभा में बिल लाइए, फिर राज्‍यसभा में जाएगा, पास हुआ तो क़ानून बनेगा। यहीं गाड़ी उनकी फँस जाती है क्‍योंकि राज्‍यसभा में इनका बहुमत नहीं है। यूपी ऐसा राज्‍य है जहाँ से बड़ी संख्‍या में सांसद जाते हैं। उनकी चाहत है कि ऐसा हो, कि यहां हुकूमत मिले तो वो सब करेंगे जो करना चाहते हैं। मुझे लगता है उनका नापाक मंसूबा इस चुनाव के बाद असफल हो जाएगा। इस चुनाव के बाद वो सर पटक कर मर जाएंगे। ये चुनाव एक प्रयोग है। ये प्रयोग अगर कामयाब हो गया, उसके करीब भी पहुंच गया तो आगे के लिए ज़बरदस्‍त समीकरण तैयार हो जाएगा।

कैसा प्रयोग?

जो जिसके साथ खड़ा है, उस लिहाज से… अल्‍पसंख्‍यक और दलित अगर ठीक से मिल जाएँ उत्‍तर प्रदेश में तो इनका सारा समीकरण मिट्टी में मिल जाएगा। अब क्‍या कीजिएगा, बांग्‍लादेश से वोट देने आएगा कोई ? 22 और 20 मिलाकर ये 42 परसेंट हैं। अन्‍य अतिपिछड़ा वर्ग जो वहां से ठगा जाएगा, अपने रास्‍ते पर आएगा। प्रोफेसर वैद्य ने क्‍या बयान दिया, मोहन भागवत के पेट में क्‍यों गैस बनती है आरक्षण को लेकर- इसे वो समझेगा। जब समझेगा तो इनके नापाक मंसूबे मिट्टी में मिल जाएँगे। हिंदुस्‍तान के लोकतंत्र में इतनी पेचीदगी है कि ये उलझन में रह गए तीन साल तक… बस उछलते रह गए। अभी सब भाजपा के लिए कह रहा है न पूर्ण बहुमत ? ये मीडया वाले लोग हैं। तीसरा नेत्र या तो शंकर भगवान के पास है या आपके मीडिया के पास। ये तीसरा नेत्र मीडिया के मालिकों के पास है। आप ग्राउंड जीरो पर घूमते रहिए, आपका मालिक जो आदेश देगा वो छपेगा। हम कहते हैं कि मुख्‍तार अंसारी को आप शंकराचार्य मत लिखिए, लेकिन अंसारी परिवार का एक पूरा इतिहास है देश के लिए कुछ करने का… इसी का रिएक्‍शन होता है… हम लोग आखिर क्‍या हैं, इसे समझने के लिए बस इतना जानिए कि राष्‍ट्रीय स्‍तर पर हमारे खिलाफ षडयंत्र होता है… कहीं न कहीं हम इस औकात में तो हैं कि हमसे लड़ने के लिए मोदी और अखिलेश को मिल जाना पड़ता है। हमारी पराजय में भी जय है। मैं तो सांसद का भी चुनाव हारा, लेकिन एक घंटे के लिए भी दूर नहीं रहा। भरत सिंह का पूछ लीजिए, तीन साल हो गया दर्शन नहीं…।

आख़िरी सवाल… मुसलमान हमेशा से सेकुलर दलों के नाम पर बँटा रहा। दलित, यादव, पिछड़े, हिंदू, सबकी अपनी-अपनी पार्टी है, लेकिन मुसलमान की अपनी पार्टी इस देश में नहीं है… क्‍या मुसलमानों की अपनी पार्टी होनी चाहिए या नहीं। आप क्‍या मानते हैं ?

है, मुसलमान से ज्‍यादा किसी की पार्टिये नहीं है, लेकिन मुसलमान से ज्‍यादा कोई सेकुलर नहीं है। वो ऐसे पार्टी के लीडरों को तवज्‍जो नहीं देता। आप बताइए ओवैसी साहब क्‍या हैं।

अभी उभरते हुए हैं…

अरे? उभरते हुए हैं? अरे बाप रे बाप, सीधे चारमीनार से कूदते हैं तो चले आते हैं… एक जंप में सीधे… मेरा मानना है कि मुसलमान जहाँ भी रहे, इकट्ठा रहे, अपनी पार्टी की बात मैं नहीं मानता।

अपनी एक पार्टी होने में क्‍या खतरा है?

मैं कई बार कह चुका हूं कि ओवैसी महाकट्टरपंथी हैं। वो ठीकेदार है। कट्टरपंथी तो दिखाने के लिए हैं। असलियत में भाजपा को फायदा पहुंचाने वाला ठीकेदार है। उत्‍तर प्रदेश के लिए जब हमने उनसे कहा तो फ़रमाने लगे कि महाराष्‍ट्र में हमने दो सीटें जीती हैं। मैंने कहा कि इसका मतलब ये है कि महाराष्‍ट्र में आपने भाजपा की सरकार बनवाई है। तो हम भी उत्तर प्रदेश में दो सीटें जीत लें तो चलें चारमीनार लड़ने ?

उलेमा काउंसिल के बारे में भी यही मानते हैं आप?

अब देखिए, वो हमारी पार्टी का समर्थन कर रहे हैं तो अब कुछ कहने की स्थिति नहीं है। हम अपने लिए कह सकते हैं कि सात साल तक हम अपने झंडे पर लड़े। अभी तो सवाल ये आकर खड़ा होगा कि मुसलमान के नाम पर राजनीति की जाए या अच्‍छाई और बुराई के नाम पर? मेरे राजनीतिक गुरु थे कामरेड सरजू पांडे। हम इन पार्टियों के कृपा पर राजनीति नहीं शुरू किए थे। लाल झंडा लेकर चार बार जीते। उसके बाद समाजवादी पार्टी में आए। किसी को भी कौम के नाम पर राजनीति करने का हक नहीं। राजभर अपनी पार्टी बनाया, पटेल अपनी पार्टी बनाया, निषाद अपनी पार्टी बनाया, केवल इसलिए मुसलमान अपनी पार्टी बना ले, इसका कोई मतलब नहीं है। अगर अपनी पार्टी बनाकर कोई कुछ कर दे तो ठीक, लेकिन इनका राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष भी अपना चुनाव हार जाता है। कहीं न कहीं अंत में आपको झुकना ही होगा, तो शुरू में ही सही ताकत के साथ जुडि़ए।

अच्‍छा अंत में ये बताइए कि ग़ाज़ीपुर में इतनी एसयूवी गाडि़याँ क्‍यों दिखती हैं? अचानक इतनी संपन्‍नता कैसे आ गई।

यार, आप क्‍या समझते हो… माननीय भारत सरकार में गाज़ीपुर का जो स्‍थान है आप उसे इतने हलके में क्‍यों ले रहे हो। संचार मंत्रालय हमारे पास, रेलवे मंत्रालय हमारे पास, हमारे छोड़े हुए लोग… लंबा साम्राज्य है… प्रधानमंत्री के चुनाव क्षेत्र के हम ही जिम्‍मेदार हैं। तो यहाँ नहीं दिखेंगी तो कहां दिखेंगी। आधा पीएमओ बनारस में बैठा है… अब तो पूरा पीएमओ आ गया है…।

तो सारी गाडि़यां उन्‍हीं की हैं?

बहुत से लोगों की हैं लेकिन कोई उसी पैटर्न का एक माहौल बना देता है तो दूसरे लोग भी वही करते हैं।

 

84 COMMENTS

  1. There is apparently a bunch to identify about this. I feel you made certain nice points in features also.

  2. Hello just wanted to give you a quick heads up. The words
    in your article seem to be running off the screen in Firefox.
    I’m not sure if this is a formatting issue or something to do with web browser compatibility
    but I figured I’d post to let you know. The design and style
    look great though! Hope you get the problem fixed soon.
    Many thanks

  3. Sweet blog! I found it while browsing on Yahoo News. Do
    you have any suggestions on how to get listed in Yahoo News?
    I’ve been trying for a while but I never seem to get there!

    Cheers

  4. I’m really enjoying the theme/design of your weblog.

    Do you ever run into any web browser compatibility problems?
    A small number of my blog readers have complained about my website not operating correctly in Explorer
    but looks great in Firefox. Do you have any tips to help fix this problem?

  5. Hi, i think that i saw you visited my web site so i got here to go back the
    prefer?.I am trying to in finding issues to enhance my website!I assume its good enough to make use of
    some of your ideas!!

  6. Greetings! I’ve been reading your weblog for a while now and finally got the bravery to go ahead
    and give you a shout out from Huffman Texas! Just wanted to say keep up the good job!

  7. Excellent weblog right here! Also your site so much up fast!
    What web host are you the usage of? Can I get your affiliate hyperlink to your host?
    I wish my web site loaded up as quickly as yours lol

  8. What i do not realize is in fact how you’re not actually much more neatly-liked than you may be right now.
    You are very intelligent. You recognize thus considerably on the subject of this matter,
    made me personally imagine it from so many various angles.

    Its like men and women are not involved
    except it’s one thing to accomplish with Woman gaga!
    Your own stuffs great. At all times care for it up!

  9. Remarkable! Its actually amazing paragraph, I have got much clear idea on the topic
    of from this post.

  10. I think this is one of the most significant info for me.
    And i’m glad reading your article. But want to remark on some general
    things, The site style is ideal, the articles is really excellent :
    D. Good job, cheers

  11. Howdy! I could have sworn I’ve visited this web site before but after going through many of
    the articles I realized it’s new to me. Nonetheless, I’m definitely happy I stumbled upon it and I’ll be bookmarking it and checking back regularly!

  12. A person necessarily assist to make seriously articles I might state.
    This is the very first time I frequented your website page and thus far?
    I amazed with the analysis you made to make this actual submit extraordinary.
    Wonderful job!

  13. My brother suggested I might like this web site.
    He was totally right. This post truly made my day.
    You cann’t imagine just how much time I had spent for
    this info! Thanks!

  14. Wow that was strange. I just wrote an very long comment but after I clicked submit my comment didn’t show up. Grrrr… well I’m not writing all that over again. Anyhow, just wanted to say wonderful blog!

  15. First of all I want to say excellent blog! I had a quick question in which I’d like to ask if you do not mind. I was curious to know how you center yourself and clear your thoughts prior to writing. I have had trouble clearing my mind in getting my thoughts out. I do take pleasure in writing however it just seems like the first 10 to 15 minutes are usually wasted simply just trying to figure out how to begin. Any ideas or tips? Kudos!

  16. I’ve read a few good stuff here. Certainly worth bookmarking for revisiting. I surprise how much effort you put to create such a wonderful informative website.

  17. Hi there, everything is going well here and ofcourse every one is sharing facts,
    that’s really good, keep up writing.

  18. I was extremely pleased to find this web site. I wanted to thanks for your time for this terrific read!! I certainly enjoying each little bit of it and I’ve you bookmarked to have a look at new stuff you weblog post.

  19. I have not checked in here for a while since I thought it was getting boring, but the last few posts are great quality so I guess I will add you back to my everyday bloglist. You deserve it my friend 🙂

  20. I believe what you published made a bunch of sense.
    But, what about this? suppose you typed a catchier post title?
    I mean, I don’t wish to tell you how to run your website, however what if you added a title that grabbed
    people’s attention? I mean BSP will win UP-Afzal Ansari is kinda boring.
    You ought to glance at Yahoo’s front page and watch how they create news titles to get
    viewers to open the links. You might add a video
    or a related picture or two to get people excited about everything’ve written. In my opinion, it would bring your
    blog a little livelier.

  21. You can certainly see your enthusiasm in the work you write. The world hopes for more passionate writers like you who are not afraid to say how they believe. Always go after your heart.

  22. Howdy! Do you know if they make any plugins
    to safeguard against hackers? I’m kinda paranoid about losing
    everything I’ve worked hard on. Any suggestions?

  23. I’m excited to uncover this site. I wanted to thank you for ones time for this fantastic read!!
    I definitely appreciated every bit of it and I have you book-marked to
    check out new stuff on your blog.

  24. each time i used to read smaller articles or reviews that as well clear their motive, and that is also happening with this piece of
    writing which I am reading at this place.

  25. Hi this is kind of of off topic but I was wanting to know if blogs use WYSIWYG editors or if you have to manually code with HTML.
    I’m starting a blog soon but have no coding experience so I wanted to get advice from someone with experience.
    Any help would be enormously appreciated!

  26. Hi there, just became aware of your blog through Google, and found that it
    is truly informative. I’m gonna watch out for brussels. I will appreciate if you
    continue this in future. Many people will be benefited from your writing.
    Cheers!

  27. You made some really good points there. I looked on the web for more info about the issue and found most individuals will go along with your views on this
    web site.

  28. Hi, i think that i saw you visited my blog so i got here to “return the desire”.I am trying to find things to improve my site!I assume its good enough to make use of some of your ideas!!

  29. I simply want to mention I am newbie to blogging and site-building and absolutely enjoyed this web site. Likely I’m going to bookmark your blog . You absolutely have good posts. Cheers for revealing your web page.

  30. My coder is trying to persuade me to move to .net from PHP. I have always disliked the idea because of the costs. But he’s tryiong none the less. I’ve been using Movable-type on various websites for about a year and am worried about switching to another platform. I have heard good things about blogengine.net. Is there a way I can import all my wordpress content into it? Any help would be greatly appreciated!

  31. My brother suggested I might like this blog. He was entirely right. This post actually made my day. You can not imagine just how much time I had spent for this info! Thanks!

  32. Hello there, You have done an excellent job. I will certainly digg it
    and personally recommend to my friends. I am confident they will be benefited from
    this website.

  33. Hi, I wish for to subscribe for this blog to take latest updates, so where can i do it please help.

  34. Hey! I could have sworn I’ve been to this website before but
    after browsing through some of the post I realized it’s new to me.
    Nonetheless, I’m definitely glad I found it and I’ll be book-marking and checking back often!

  35. I’m extremely impressed together with your writing skills as well as
    with the format for your weblog. Is this a paid topic or did you modify it your self?
    Either way keep up the nice high quality writing,
    it is rare to look a great weblog like this one these days..

  36. Wonderful beat ! I wish to apprentice while you amend your
    web site, how can i subscribe for a blog web site?
    The account helped me a acceptable deal. I had been tiny bit
    acquainted of this your broadcast offered bright
    clear idea

  37. I do accept as true with all of the ideas you’ve presented on your post.
    They are really convincing and can definitely work.

    Still, the posts are too brief for beginners.

    Could you please extend them a bit from next time? Thank you for the post.

  38. I discovered your weblog web site on google and examine a couple of of your early posts. Proceed to keep up the excellent operate. I just further up your RSS feed to my MSN Information Reader. Looking for forward to reading extra from you later on!…

  39. Wow that was unusual. I just wrote an very long comment but after I clicked submit my comment didn’t appear. Grrrr… well I’m not writing all that over again. Anyways, just wanted to say superb blog!

  40. My brother suggested I might like this blog. He used to be
    totally right. This publish truly made my day. You cann’t imagine simply how a lot
    time I had spent for this information! Thank you!

  41. For most recent information you have to pay a quick visit world-wide-web and on the
    web I found this website as a best website for newest updates.

  42. Sweet blog! I found it while surfing around on Yahoo News.

    Do you have any suggestions on how to get listed in Yahoo News?
    I’ve been trying for a while but I never seem to get there!
    Cheers

  43. Hi this is kind of of off topic but I was wanting to know if blogs use WYSIWYG editors
    or if you have to manually code with HTML.
    I’m starting a blog soon but have no coding skills so I wanted to get guidance from someone
    with experience. Any help would be greatly appreciated!

  44. Greetings I am so happy I found your site, I really found you by error, while I was browsing on Digg for something else, Anyhow I am here now and would just like to say kudos for a marvelous post and a all round exciting blog (I also love the theme/design), I donít have time to read through it all at the minute but I have saved it and also included your RSS feeds, so when I have time I will be back to read much more, Please do keep up the awesome job.

  45. Hello, you used to write great, but the last few posts have been kinda boring… I miss your great writings. Past few posts are just a little bit out of track! come on!

  46. I don’t even know how I ended up here, but I thought this post was great. I do not know who you are but certainly you’re going to a famous blogger if you aren’t already 😉 Cheers!

  47. There is certainly a lot to learn about this subject. I like
    all the points you have made.

  48. It’s a pity you don’t have a donate button! I’d
    definitely donate to this brilliant blog! I guess for now i’ll settle for book-marking and adding your RSS feed to my Google account.
    I look forward to new updates and will share this website with my Facebook
    group. Chat soon!

  49. Link exchange is nothing else but it is simply placing the other person’s webpage link on your page at appropriate
    place and other person will also do same in favor of you.

  50. Great items from you, man. I’ve consider your stuff prior to
    and you’re simply too great. I really like what you’ve bought right
    here, certainly like what you’re stating and the best way through which you assert it.
    You are making it entertaining and you continue to care for
    to keep it sensible. I cant wait to read much more from you.
    That is actually a great website.

  51. As I web-site possessor I believe the content material here is rattling magnificent , appreciate it for your hard work. You should keep it up forever! Good Luck.

  52. Currently it looks like BlogEngine is the best blogging platform out there right now. (from what I’ve read) Is that what you are using on your blog?

  53. obviously like your web-site however you have to test the spelling on several
    of your posts. Many of them are rife with spelling issues and I to
    find it very bothersome to inform the reality nevertheless I’ll definitely come again again.

  54. The next time I learn a weblog, I hope that it doesnt disappoint me as much as this one. I imply, I do know it was my choice to read, but I actually thought youd have one thing fascinating to say. All I hear is a bunch of whining about something that you possibly can repair for those who werent too busy in search of attention.

  55. I was very happy to seek out this net-site.I needed to thanks to your time for this glorious read!! I definitely having fun with each little little bit of it and I’ve you bookmarked to take a look at new stuff you blog post.

  56. Hi there I wanted to say hi. The text in your content seem to be running off the screen in Safari. I’m not sure if this is a formatting issue or something to do with web browser compatibility but I figured I’d say something to let you know. The design look great though! Hope you get the issue solved soon. Kudos.

  57. Hello There. I found your blog using msn. This is a really well written article.
    I will be sure to bookmark it and return to read more of your useful info.
    Thanks for the post. I will certainly comeback.

  58. Very soon this web site will be famous amid all blog
    viewers, due to it’s fastidious articles or reviews

  59. It’s onerous to find educated individuals on this matter, however you sound like you know what you’re talking about! Thanks

  60. Pretty great post. I just stumbled upon your blog and wished to mention that I’ve really enjoyed browsing your weblog posts. After all I will be subscribing to your rss feed and I hope you write once more soon!

  61. Hi to every single one, it’s truly a nice for me to pay a quick visit this web page, it contains
    useful Information.

  62. Somebody essentially lend a hand to make severely
    posts I’d state. That is the first time I frequented your web
    page and up to now? I surprised with the analysis you made to create this particular
    submit amazing. Excellent activity!

  63. I have been surfing online greater than three
    hours these days, but I by no means found any interesting article like yours.
    It is lovely worth enough for me. In my opinion, if all website owners
    and bloggers made excellent content as you
    probably did, the net can be a lot more helpful than ever before.

  64. Asking questions are truly good thing if you are not understanding something fully, however this article presents pleasant understanding yet.

  65. Virtually all of whatever you say happens to be supprisingly precise and it makes me ponder the reason why I had not looked at this with this light previously. This article truly did switch the light on for me as far as this particular subject goes. But at this time there is one particular point I am not really too comfortable with and while I attempt to reconcile that with the main idea of the issue, permit me see exactly what the rest of your subscribers have to point out.Well done.

  66. This is a good tip especially to those fresh to the blogosphere.
    Brief but very accurate info… Thank you for sharing this
    one. A must read post!

  67. I used to be more than happy to find this net-site.I wanted to thanks in your time for this glorious learn!! I definitely enjoying each little bit of it and I have you bookmarked to take a look at new stuff you weblog post.

  68. “Great post can make continuous improvement, thanks reveal, the actual build up associated with understanding would be to maintain understanding, interest is actually the start of prosperity.”

  69. Valuable information. Lucky me I found your website by accident, and I am shocked why this accident did not happened earlier! I bookmarked it.

  70. I am typically to blogging and i truly appreciate your content. The post has really peaks my interest. I am going to bookmark your web site and preserve checking for new facts.

  71. I needed to thank you for this good read!! I certainly enjoyed every little bit of it.
    I have got you saved as a favorite to look at new things you post…

  72. Your style is very unique in comparison to other people I’ve read stuff from.
    Thank you for posting when you have the opportunity,
    Guess I will just bookmark this page.

  73. Quality content is the secret to interest the visitors to pay
    a quick visit the web page, that’s what this web page is providing.

  74. My family every time say that I am killing my time here at net, except I know I am getting experience all the time by reading thes pleasant articles or reviews.

  75. Hello! I know this is kinda off topic but I’d figured I’d ask. Would you be interested in trading links or maybe guest authoring a blog post or vice-versa? My website covers a lot of the same topics as yours and I believe we could greatly benefit from each other. If you’re interested feel free to shoot me an e-mail. I look forward to hearing from you! Superb blog by the way!

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.