Covaxin को आपातकालीन उपयोग की मंजूरी देने लिए और डेटा की ज़रूरत: WHO

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
Corona Published On :


विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सोमवार को कहा कि संगठन कोवैक्सिन (Covaxin) पर भारत बायोटेक से “एक अतिरिक्त जानकारी” की उम्मीद कर रहा था, जिसकी आपातकालीन उपयोग सूची (ईयूएल) के लिए डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञों द्वारा जांच की जा रही है। डब्ल्यूएचओ ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है कि आपातकालीन उपयोग की सूची इस बात पर निर्भर करती थी कि वैक्सीन मैन्युफैक्चर कितनी जल्दी होता है।

मूल्यांकन करना होगा कि यह सुरक्षित है या नहीं: WHO

WHO ने ट्वीट में कहा कि हम जानते हैं कि बहुत से लोग Covaxin के COVID-19 आपातकालीन उपयोग की सूची में शामिल होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं, लेकिन आपातकालीन उपयोग के लिए किसी उत्पाद की सिफारिश करने से पहले, हमें यह सुनिश्चित करने के लिए इसका अच्छी तरह से मूल्यांकन करना चाहिए कि यह सुरक्षित है या नहीं।

भारत बायोटेक लगातार WHO को डेटा सबमिट कर रही..

एक अन्य ट्वीट में डब्ल्यूएचओ ने कहा, Covaxin की निर्माता भारत बायोटेक (Bharat Biotech) लगातार WHO को डेटा सबमिट कर रही है और WHO के विशेषज्ञों ने इन डेटा की समीक्षा की है।

डब्ल्यूएचओ आज कंपनी से एक अतिरिक्त जानकारी की उम्मीद कर रहा है। दरअसल, डब्ल्यूएचओ की आपातकालीन उपयोग सूची प्रक्रिया की समय सीमा इस बात पर निर्भर करती है कि वैक्सीन निर्माता कितनी जल्दी डब्ल्यूएचओ को टीके की गुणवत्ता, सुरक्षा, प्रभावशीलता, साथ ही मध्यम-आय वाले देशों के लिए इसकी उपयुक्तता का मूल्यांकन करने के लिए आवश्यक डेटा प्रदान करने में सक्षम है या नहीं।

Covaxin के लिए EUL पर विचार करने के लिए तकनीकी सलाहकार समूह की बैठक..

रविवार को WHO की चीफ साइंटिस्ट सौम्या स्वामीनाथन ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा,Covaxin  के लिए EUL पर विचार करने के लिए तकनीकी सलाहकार समूह (technical advisory group) 26 अक्टूबर को बैठक करेगा। WHO डोजियर को पूरा करने के लिए भारत बायोटेक (BharatBiotech) के साथ मिलकर काम कर रहा है। हमारा लक्ष्य आपातकालीन उपयोग के लिए स्वीकृत टीकों का एक व्यापक पोर्टफोलियो और हर जगह आबादी तक पहुंच का विस्तार करना है

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।