Home Corona लॉकडाउन-5 पर लगा ‘अनलॉक’ का बोर्ड, 30 जून तक जूझते रहिये

लॉकडाउन-5 पर लगा ‘अनलॉक’ का बोर्ड, 30 जून तक जूझते रहिये

किसी राज्य से दूसरे राज्य में जाने के लिए अब ई-पास की कोई ज़रूरत नहीं होगी। साथ ही एक जिले से दूसरे जिले में जाने पर भी कोई रोक नहीं होगी। अन्तर्राज्यीय यातायात भी शुरू किया जायेगा। यदि पाबंदी लगायी जाएगी तो लोगों को इस बारे में सूचित करना होगा।

SHARE

कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन फ़िर से बढ़ा दिया गया है। चौथा लॉकडाउन 31 मई को ख़त्म हो रहा था। अब 1 जून से 30 जून तक पांचवा लॉकडाउन बढ़ाया गया है। इस बार लॉकडाउन को अनलॉक 1 का नाम दिया गया है। इसे तीन चरणों में बांटा गया है। 24 मार्च के बाद से अब तक लागू किए गए लॉकडाउन में सख्ती की गयी थी। इस बार के लॉकडाउन में कन्टेनमेंट जोन्स को छोड़कर बाकी जगहों पर चरणबद्ध तरीके से ढील दी जाएगी।

लॉकडाउन 5 के दिशा निर्देश-

किसी राज्य से दूसरे राज्य में जाने के लिए अब ई-पास की कोई ज़रूरत नहीं होगी। साथ ही एक जिले से दूसरे जिले में जाने पर भी कोई रोक नहीं होगी। अन्तर्राज्यीय यातायात भी शुरू किया जायेगा। यदि पाबंदी लगायी जाएगी तो लोगों को इस बारे में सूचित करना होगा।

मेट्रो सेवाओं के संचालन में अभी कोई छूट नहीं दी गयी है।

पहले चरण में 8 जून से धार्मिक स्थल, होटल, रेस्टोरेंट और शॉपिंग मॉल खोलने की अनुमति दी जाएगी। इसके लिए सरकार की तरफ़ से दिशा-निर्देश जारी होंगे।

शादी के लिए अधिकतम 50 लोग एकत्रित हो सकते हैं। अंतिम संस्कार में अधिकतम 20 लोग ही जा सकते हैं।

आवश्यक चीज़ों को छोड़कर, रात में कर्फ्यू लागू किया जायेगा।

रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक नाईट कर्फ्यू किया जायेगा। इसके पहले शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक कर्फ्यू होता था।

दूसरे चरण में स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक संस्थान, कोचिंग को राज्य सरकार के साथ बातचीत में तय कर के खोला जा सकता है।

चरण 3 में स्थितियों को देखते हुए विदेश यात्रा शुरू की जा सकती है, मेट्रो, सिनेमा, जिम, स्विमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क के साथ ही राजनीतिक, धार्मिक, खेल से जुड़े, कोई भी सामाजिक आयोजन के लिए निर्देश, चरण तीन की स्थितियों को ध्यान रखते हुए दिए जाएंगे।

सार्वजनिक क्षेत्रों में जाने पर मास्क लगाना और सामाजिक दूरी के नियम का पालन करना होगा।

अति आवश्यक कार्यों को छोड़कर गर्भवती महिलाओं को, 10 साल से कम उम्र के बच्चों को, बीमार और बुजुर्गों को घर में रहने का निर्देश जारी किया गया है।

कोई भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश परिस्थितियों के आंकलन के आधार पर पाबंदियां लगा सकता है।

वर्क फ्रॉम होम को प्राथमिकता देने पर ज़ोर देने की बात कही गयी है।

स्क्रीनिंग, हैंड वाश और सैनीटाईजेशन की व्यवस्था एंट्री और एग्जिट के साथ ही कॉमन एरिया में की जाए।

कम की जगहों और, कॉमन एरिया में, संपर्क में आने वाली हर चीज़, दरवाजे के हैंडल आदि , शिफ्ट के चेंज होने पर सैनीटाईज किए जाएं।

कोरोना संक्रमण के आंकड़े रोज़ाना रफ़्तार से बढ़ते जा रहे हैं। कोविड 19 इंडिया की ताज़ा जानकरी के अनुसार कोरोना संक्रमितों का आकंड़ा 1 लाख 76 हज़ार 275 पहुंच गया है। जिसमें से 87 हज़ार 388 मामले अभी एक्टिव हैं। 83 हज़ार 879 लोग इस संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। देश में 4997 लोगों की मिस संक्रमण से मृत्यु हो चुकी है।


 

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.