Home वीडियो पूँजी के प्रेतों की ‘सर्वे-साधना’ का लक्ष्य है जन’मत’संहार !

पूँजी के प्रेतों की ‘सर्वे-साधना’ का लक्ष्य है जन’मत’संहार !

SHARE

आख़िर ओपीनियन पोल क्यों बार-बार ग़लत होते हैं और क्या इनके राजनीतिक उद्देश्य भी होते हैं…मीडिया की सामाजिक संरचना इसके लिए कितनी ज़िम्मेदार है? नेशनल दस्तक के पत्रकार शंभु कुमार सिंह के तमाम सवालों का जवाब दिया वरिष्ठ पत्रकार और मीडिया विजिल ट्र्स्ट के अध्यक्ष डॉ.पंकज श्रीवास्तव ने। वीडियो देखें—