Home प्रदेश उत्तर प्रदेश बिजनौर में बकाया भुगतान मांग रहे किसानों पर यूपी पुलिस का कहर,...

बिजनौर में बकाया भुगतान मांग रहे किसानों पर यूपी पुलिस का कहर, बुजुर्गों को भी नहीं बख्‍शा

SHARE

उत्‍तर प्रदेश के बिजनौर में सोमवार को आजाद किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने गन्ना मूल्य भुगतान को लेकर कलेक्ट्रेट के बाहर आत्मदाह करने की घोषणा की थी। यूनियन के सैकड़ों समर्थकों के साथ किसान दिन में कलेक्ट्रेट पहुंचे थे और डीएम ऑफिस के बाहर लकड़ी डालकर चिता लगा ली थी। इसके बाद का जो नज़ारा सामने आया है, वह भयावह है। पुलिस ने उम्र का लिहाज न करते हुए बुजुर्ग किसानों को घसीट-घसीट कर मारा, चिता से किसानों को उठा कर दूर किया और धरनारत किसानों को तितर-बितर कर दिया।

पुलिस के समझाने पर किसान जब नहीं माने तो पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल करते हुए सबसे पहले किसानों पर पानी की बौछार कर भगाने का प्रयास किया। बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर कलेक्ट्रेट से किसानों को दौड़ाया। इस दौरान पूरे कलेक्ट्रेट में अफरा-तफरी का माहौल बना रहा। कई किसान कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

आज़ाद किसान यूनियन के अध्यक्ष राजेंद्र चौधरी के मुताबिक बिजनौर की तीन चीनी मिलों द्वारा अभी किसानों का करोड़ रुपया गन्ने का भुगतान बकाया है। इसी भुगतान को लेकर किसानों ने आत्मदाह करने की कोशिश की थी। पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज में रूपेश चौधरी, कृपाल सिंह, शकील अहमद सहित सैकड़ों किसानों ज़ख्‍मी हुए।

1 COMMENT

  1. Separate laws for rich and poor ? Why no arrest of mill owner? Owner of Delta factory in Ramnagar Uttarakhand Kapil Gupta violated many laws . Fir lodged in ipc 420 and 406 (.non bailable ). (.ref to latest issue of enagrik.com Page 12 ). Workers fought under the leadership of inqlabi Mazdoor Kendra. Can anyone dare arrest him ? Any C M ? And you arrested president of the inqlabi Mazdoor Kendra Kailash Bhatt. Why? Just for procession and satyagraha of working class on 26 Jan in Rudrapur? Denik Jagran called him Mastermind ?(. Read 2 article on this in media vigil)

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.