Home वीडियो संपादकों और पत्रकारों को ये तक नहीं मालूम कि भारत में किसान...

संपादकों और पत्रकारों को ये तक नहीं मालूम कि भारत में किसान कौन है!

SHARE
New Delhi: Magsaysay awardee P Sainath delivers 18th D S Borker lecture on ' My Vision of India: 2047 AD' in New Delhi on Wednesday evening. PTI Photo by Kamal Singh(PTI8_25_2016_000039A)

वरिष्‍ठ पत्रकार पी. साइनाथ ने 16 जुलाई को खेती-किसानी के संकट और मीडिया के साथ उसके संबंध पर दिल्‍ली के गांधी स्‍मृति एवं दर्शन में ‘प्रभाष प्रसंग’ नामक आयोजन में एक महत्‍वपूर्ण व्‍याख्‍यान दिया जिसमें उन्‍होंने कारपोरेट मीडिया की विसंगतियों की ओर खुलकर संकेत किया। प्रस्‍तुत है नेशनल दस्‍तक द्वारा की गई व्‍याख्‍यान की रिकॉर्डिंग के कुछ अंश:

LEAVE A REPLY