Home टीवी तो ज़ी संपादक सुधीर चौधरी ने उड़ाई 2000 के नोट में चिप...

तो ज़ी संपादक सुधीर चौधरी ने उड़ाई 2000 के नोट में चिप की अफ़वाह !

SHARE

ज़ी न्यूज़ के संपादक सुधीर चौधरी प्रतिष्ठित रामनाथ गोयनका सम्मान से सम्मानित हैं। तमाम लोग चाहे उन्हें उगाहीबाज़ी के आरोप में तिहाड़ की हवा खाने वाले संपादक बतौर जानते हों, लेकिन इसमें शक़ नहीं कि वे कई मीडिया संस्थानों में काम कर चुके अनुभवी पत्रकार हैं। उनकी गणना देश के शीर्ष ”राष्ट्रवादी’ पत्रकारों में होती है जो आये दिन पाकिस्तान और आतंकियों से मोर्चा लेता रहता है। देश के लिए उनकी जान को क़ीमती मानते हुए मोदी सरकार ने उनकी हिफाज़त के लिए वाई श्रेणी की सुरक्षा  भी मुहैया कराई है।

वे मोदी जी के प्रशंसक हैं और यह उनका अधिकार है। लेकिन कई बार मोदी सरकार की कल्पना से भी आगे पहुँज चाते हैं। उनका अतिउत्साह बार-बार उन्हें झुट्ठे पत्रकारों की श्रेणी में पहुँचा देता है। इस काम में उनका कार्यक्रम DNA ख़ासा मशहूर हो चुका है। इसकी ताज़ा मिसाल है नये 2000 रुपयों में किसी ऐसी चिप के लगे होने की बात जिससे उसे सैटेलाइट के ज़रिये ट्रैक किया जा सकता है। इस अफ़वाह को फैलाने में सुधीर चौधरी की क्या भूमिका रही है, यह इस वीडियो से साफ़ है। सच्चाई यह है कि इस नोट में ऐसी कोई चिप नहीं है जिससे किरणें फूटेंगी और 120 गहरे गड्ढे में छिपाने के बावजूद जिन्हें ट्रैक कर लिया जाएगा। यह वीडियो ऐतिहासिक है और अगर टेक्नोलॉजी ने साथ दिया तो रहती दुनिया तक भारतीय पत्रकारिता के बिकाऊ और अफ़वाहू होने की नज़ीर बतौर इसे बार-बार देखा जाएगा। फ़िलहाल तो आप देखें ——-

 

 

बीबीसी ने इस पर जो छापा, वह नीचे पढ़ सकते हैं। 

 

नए नोटों में चिप सरासर अफवाह है

  • 10 नवंबर 2016

भारत के केंद्रीय बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने बताया है कि 500 रुपये और 2000 रुपये के नए जारी किए गए नोट कैसे होंगे.

500 और 2000 के नए नोट.Image copyrightEPA 
Image caption500 और 2000 के नए नोट.

हालांकि सोशल मीडिया पर कई लोग लिख रहे हैं कि इन नोटों में खास किस्म के चिप होंगे और इस मामले में आरबीआई ने स्पष्ट किया है कि ऐसी कोई टेक्नोलॉजी नहीं है. हालांकि इसका मज़ाक भी उड़ाया जा रहा है.

आइए हम आपको बताते हैं कि ये नए नोट कैसे होंगे.

महात्मा गांधी की नई सिरीज के तहत जारी किए जाने वाले 500 रुपये के नए नोट पुराने वापस लिए गए नोट से अलग होंगे.

2000 का नोटImage copyrightAFP

इसका रंग, साइज, थीम , सुरक्षा खूबियां, डिजाइन पुरानी सिरीज के नोट से अलग होगा. नए नोट का साइज 66 मिलीमीटर गुना 150 मिलीमीटर रखा गया है.

नोट स्लेटी रंग का होगा. और नोट के पिछले हिस्से पर खास तौर से लालकिले की तस्वीर रहेगी.

हालांकि सरकार 2000 रुपये के नोट पहली बार जारी कर रही है. इसे भी महात्मा गांधी सिरीज के तहत रखा गया है.

2000 रुपये के नोट के पिछले हिस्से में मंगलयान की छवि रहेगी. 2000 रुपये के नोट गहरे गुलाबी रंग के होंगे. इसकी साइज 66 मिलीमीटर गुना 166 मिलीमीटर होगी.

2000रुपये के नोट की कुछ खास बातें

500 और 2000 के नए नोट.Image copyrightEPA 
Image caption500 और 2000 के नए नोट का सामने का हिस्सा.

सामने का हिस्सा

  • नोट पर गुप्त रूप से ‘2000’ छपा होगा
  • देवनागरी लिपि में ‘2000’ लिखा रहेगा
  • नोट के केंद्र में महात्मा गांधी की तस्वीर
  • नोट के बाएं तरफ सूक्ष्म अक्षरों में RBI और 2000 लिखा होगा
  • बारीक सुरक्षा धागा जिस पर भारत, RBI और 2000 छपा रहेगा. तिरछा करके देखने पर रंग हरा से नीला होगा.
  • बायीं तरफ गवर्नर के दस्तखत, उनका वादानामा और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया का प्रतीक.
  • नंबर पैनल पर नोट के नंबर छोटे से बड़े होते आकार में छपे होंगे. यह बायीं तरफ ऊपरी हिस्से में और दाहिनी तरफ निचले हिस्से में छपा होगा.
  • नोट के दाहिनी तरफ अशोक स्तंभ का प्रतीक.

नोट के पिछले तरफ

  • नोट के मुद्रण का वर्ष
  • स्वच्छ भारत का लोगो इसके नारे के साथ.
  • अलग-अलग भाषाओं में दो हजार रुपये
  • मंगलयान की तस्वीर