Home टीवी इंडिया न्‍यूज़ की चित्रा त्रिपाठी ने किया रामनाथ गोयनका अवॉर्ड को कलंकित,...

इंडिया न्‍यूज़ की चित्रा त्रिपाठी ने किया रामनाथ गोयनका अवॉर्ड को कलंकित, कहा ”मुझे ब्राह्मण होने पर गर्व है”!

SHARE

वैसे तो रामनाथ गोयनका पत्रकारिता पुरस्‍कार रिश्‍वतखोरी के आरोप में जेल जा चुके ज़ी न्‍यूज़ के सुधीर चौधरी को दिए जाते ही अविश्‍वसनीय हो चुका था, लेकिन आज फिर एक बार इसे कलंकित करने का काम एक पुरस्‍कार विजेता नेे किया है। इंडिया न्‍यूज़ की एसोसिएट एडिटर चित्रा त्रिपाठी को यह पुरस्‍कार जम्‍मू कश्‍मीर से रिपोर्टिंग के लिए पिछली बार मिला था। पुरस्‍कार देने वाले नहीं जानते थे कि यह महिला घोर ब्राह्मणवादी है, नस्‍ली है और ब्राह्मणवाद का विरोध करने वाले को ‘पागल’ समझती है।

यह कहानी फेसबुक पर टीवी चैनलों के अविवादित रूप से निर्भीक पत्रकार और न्‍यूज़ 24 के चर्चित ऐंकर नवीन कुमार की एक पोस्‍ट से शुरू होती है जिसमें उन्‍होंने ब्राह्मणवाद की विसंगतियों की ओर इशाारा किया था। पोस्‍ट निम्‍न है:

 

 

इस पोस्‍ट पर लेखक की काफी लानत-मलानत हुई, लेकिन आश्‍चर्य तब हुआ जब रामनाथ गोयनका पुरस्‍कार से नवाज़ी गई इंडिया न्‍यूज़ की पत्रकार चित्रा त्रिपाठी ने यह टिप्‍पणी की:

 

ct

 

इस टिप्‍पणी पर नवीन कुमार ने उन्‍हें पहले तो आंबेडकर की कुछ किताबें पए़ने की सलाह दी, फिर उसके बाद विस्‍तार सेे एक पोस्‍ट लिखी है जिसे आप नीचे पढ़ सकते हैं:

 

 

नवीन कुमार द्वारा बहस के आमंत्रण को स्‍वीकारते हुए त्रिपाठी लिखती हैं कि ”ब्राह्मण कोई समस्‍या नहीं है” और उन्‍हें ”ब्राह्मण होने पर गर्व है”। पूरी टिप्‍पणी नीचे देखें:

 

ccc

यह सोचने वाली बात है कि दो साल पहले केंद्र में सत्‍ता बदलते ही अचानक रामनाथ गोयनका जैसे प्रतिष्ठित पुरस्‍कार से सम्‍मानित किए जाने वालेे कैसे-कैसे लोगों को चुना जा रहा है। ”ब्राह्मणवाद पर गर्व” करने वाली एक महिला पत्रकार और रिश्‍वतखोरी के आरोप में जेल जा चुके एक पुरुष पत्रकार को आरएसएस/बीजेपी के राज में पत्रकारिता पुरस्‍कार मिल रहा है, वो भी केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के हाथों, तो यह सवाल पत्रकारिता की उस विरासत पर है जो रामनाथ गोयनका से शुरू होकर आज के ‘दि इंडियन एक्‍सप्रेस’ तक चली आई है और जहां पत्रकारीय कौशल के अलावा एक पत्रकार में मूल संवैधानिक भावनाओं के प्रति सम्‍मान को भी देखा जाता रहा है।

चित्रा त्रिपाठी की ये टिप्‍पणियां न केवल एक पत्रकार के बतौर उनकी समझदारी और सामाजिक जिम्‍मेदारी के निर्वहन पर सवाल खड़ा करती हैं, बल्कि उस संस्‍थान और उसके संपादक को भी संदेह के घेरे में ला देती हैं जिसने उन्‍हें अपने यहां इतने अहम पद पर बैठाया हुआ है।

 

17 COMMENTS

  1. My developer is trying to persuade me to move to .net from PHP. I have always disliked the idea because of the costs. But he’s tryiong none the less. I’ve been using WordPress on a variety of websites for about a year and am nervous about switching to another platform. I have heard very good things about blogengine.net. Is there a way I can transfer all my wordpress content into it? Any kind of help would be greatly appreciated!

  2. Great post. I was checking continuously this weblog and I am impressed! Extremely helpful info specifically the remaining part 🙂 I maintain such information a lot. I was seeking this certain information for a long time. Thanks and best of luck.

  3. Hello my friend! I want to say that this post is amazing, great written and come with almost all important infos. I would like to look more posts like this .

  4. It’s actually a cool and helpful piece of information. I’m glad that you shared this helpful info with us. Please keep us informed like this. Thanks for sharing.

  5. I’ve been exploring for a little for any high quality articles or weblog posts on this sort of house . Exploring in Yahoo I at last stumbled upon this web site. Studying this info So i am happy to convey that I’ve an incredibly good uncanny feeling I found out just what I needed. I such a lot without a doubt will make sure to do not disregard this web site and give it a look on a relentless basis.

  6. Hey there I wanted to say hi. The text in your article seem to be running off the screen in Ie. I’m not sure if this is a formatting issue or something to do with browser compatibility but I figured I’d comment to let you know. The style and design look great though! Hope you get the issue solved soon. Thanks!

  7. It’s the best time to make some plans for the future and it’s time to be happy. I’ve read this post and if I could I wish to suggest you few interesting things or suggestions. Maybe you can write next articles referring to this article. I desire to read more things about it!

  8. I do agree with all the ideas you have presented in your post. They’re very convincing and will certainly work. Still, the posts are too short for novices. Could you please extend them a bit from next time? Thanks for the post.

  9. Good blog! I really love how it is simple on my eyes and the data are well written. I’m wondering how I might be notified when a new post has been made. I have subscribed to your RSS which must do the trick! Have a nice day!

  10. Hi there! I just wanted to ask if you ever have any problems with hackers? My last blog (wordpress) was hacked and I ended up losing many months of hard work due to no data backup. Do you have any methods to protect against hackers?

  11. I’ve been absent for a while, but now I remember why I used to love this blog. Thank you, I’ll try and check back more often. How frequently you update your web site?

  12. Hi there! This is my first visit to your blog! We are a collection of volunteers and starting a new project in a community in the same niche. Your blog provided us valuable information to work on. You have done a outstanding job!

LEAVE A REPLY