Home टीवी ‘ताल ठोक के’ झूठ बोलते-बोलते हिटलर तक पहुंच गए Zee News के...

‘ताल ठोक के’ झूठ बोलते-बोलते हिटलर तक पहुंच गए Zee News के रोहित सरदाना

SHARE

ज़ी न्‍यूज़ पर झूठ बोलने की अगुवाई वैसे तो आधिकारिक रूप से सुधीर चौधरी करते हैं जो रिश्‍वतखोरी में जेल भी जा चुके हैं लेकिन आजकल उनके गोएबल्‍स सिपहसालार रोहित सरदाना बने हुए हैं। सरदाना ने 18 फरवरी को ‘ताल ठोक के’ कार्यक्रम का विषय रखा था ‘देशद्रोह क्‍या है’। इसमें सरदाना ने एक मौलिक झूठ बोला कि आज़ाद भारत में किसी को देशद्रोह के तहत सज़ा नहीं हुई है और इतना ही नहीं, उन्‍होंने जब सुप्रीम कोर्ट की एडवोकेट मोनिका अरोड़ा से इस बारे में सवाल पूछा तो उन्‍होंने भी इसकी पुष्टि की।

अगर रोहित सरदाना एक बार कॉमन सेंस का इस्‍तेमाल कर लेते, तो इतना बड़ा ब्‍लंडर नहीं करते लेकिन ऐसा लगता है कि यह जान-बूझ कर बोला गया झूठ था। जिस मकबूल भट्ट, अफ़ज़ल गुरु और याकूब मेमन के इर्द-गिर्द सारी बहस चल रही है, इन तीनों को देशद्रोह में ही फांसी हुई है। इसके अलावा हाल के मामलों में जीएन साइबाबा से लेकर हेम मिश्र, अरुण फ़रेरा, सीमा आज़ाद, सुधीर धवले और बिनायक सेन आदि तमाम लोगों को देशद्रोह में जेल भुगतनी पड़ी है और इनके नाम पुराने नहीं पड़े हैं कि कोई भूल जाए। रोहित सरदाना ने जान-बूझ कर इनमें से किसी नाम का जि़क्र नहीं किया और झूठा प्रचार किया कि आज़ाद भारत में देशद्रोह का सिर्फ चार्ज लगाया गया है, सज़ा नहीं हुई है।

एक झूठ बातचीत को कहां तक ले जा सकता है, इसे वीडियो में पैनलिस्‍ट अधिवक्‍ता मोनिका अरोड़ा के कहे से समझा जा सकता है जो जेएनयू प्रकरण में सरकार की इच्‍छाशक्ति की सराहना करते हुए हिटलर को याद करती हैं। अरोड़ा कहती हैं कि हिटलर के दिमाग में केवल आइडिया आया था यहूदियों के नाश का और उसने कर दिखाया। वे जेएनयू के छात्रों की तुलना इस तरह हिटलर से कर देती हैं।

इससे खतरनाक प्रोपगेंडा क्‍या होगा कि हिंदुत्‍ववाद की जो विचारधारा हिटलर को अपना प्रेरणास्रोत मानती हो, वह अपने विरोधियों की तुलना ही हिटलर से आज कर रही है। मज़ेदार ये है कि रोहित सरदाना के शब्‍दों में पैनल पर उन्‍होंने नेताओं को नहीं बुलाया है बल्कि देश के ऐसे चेहरो को बुलाया है जो ”विश्‍व पटल पर देश की नुमाइंदगी” करते हैं। इनमें एक फौज का अफ़सर है, दूसरा रॉ का पूर्व अधिकारी, तीसरी अधिवक्‍ता अरोड़ा जो भारती एयरटेल कंपनी के सीएसआर प्रोग्राम न्‍याय भारती को चलाती हैं, चौथे हैं पहलवान योगेश्‍वर दत्‍त और पांचवीं हैं जेएनयू की प्रोफेसर अमिता सिंह। अगर ये चेहरे ”विश्‍व पटल” पर भारत की नुमाइंदगी करते हैं, तो इससे हास्‍यास्‍पद और कुछ नहीं है।

सवाल उठता है कि रोहित सरदाना और उनके पैनलिस्‍ट के झूठ को कोई कैसे काउंटर करेगा जब उनके पैनल में पहलवान और फौजी यह तय करने बैठे हैं कि ”देशद्रोह क्‍या है”।

 

https://youtu.be/it-QkrpDoz8 

 

 

29 COMMENTS

  1. मै रोहित सरदाना का पक्षधर नै हु, लेकिन जो बात उन्होंने कही , और जिस तरीके से इस ब्लॉग पर उसे पेश किया गया, दोनों में काफी फर्क महसूस होता है, वैसे भी इस देश में , अपने आप को सभ्य और शिक्षित दिखाने के लिए, देश को ही कोशने का रुझान चल रखा है, उसी कड़ी में यह ब्लॉग भी एक सभ्य व शिक्षित व्यक्ति (ब्लॉगर) होने का परिचायक है।

  2. किसने लिखा है यह रिपोर्ट ? जिसने भी लिखा है उसने कम बुद्धि का प्रयोग कर के या भ्रमित / गुमराह करने के लिये लिख रहा है l मकबूल भट्ट, अफ़ज़ल गुरु और याकूब मेमन को देशद्रोह की सजा इसलिए मिली क्योंकि इन्होने बम ब्लास्ट किया, संसद पर आक्रमण किया या ऐसी किसी घटना में परोक्ष / अपरोक्ष तरीके से साथ दिया या सहयोग किया l देशद्रोही भाषण देने में, जुलुस निकालने में, तोड़ फोड़ करने में दंगे फैलाने में किसको देशद्रोह की सजा मिली है ????? सजा मिली भी है तो एनी किसी धरा के अंतर्गत अपराध की l ऐसा लगता है कि जिसने भी लिखा है, वह किसी पूर्वाग्रह से ग्रसित है और अनजाने में ही सही उनका यह लेख अराजकता फैलाने में सहयोग देगा l

  3. Apni ye politics krne k bjaye unite Ho Kr aap ko bhi desh k sath khada hona chahiye na Ki use todne wali takto k hit Mai bat krni chahiye……waha bola Kisi or way se Gaya tha or yaha likha or way se Gaya hai ise saf pta chlta hai Ki aap politics chmkane Mai lage hue hai……hum aam janta hai pr sb jante hai…..ye public hai ye sb janti hai ok so dun try to be over smart

  4. If an Army office, a RAW agent, an olympic medalist wrestler, a professor and a senior CSR executive being called people who represent India to the world is funny, than I think according to the writer only Rahul ji and Kejri ji should have a right to represent India everywhere as Rahul ji ka to birthright hai and Kejri ji ki baat kaatana matlab beimaani ka certificate likhwana.

  5. Thanks for another fantastic post. Where else could anybody get that kind of info in such a perfect way of writing? I’ve a presentation next week, and I’m on the look for such info.

  6. I used to be more than happy to search out this net-site.I wished to thanks to your time for this excellent read!! I definitely having fun with each little little bit of it and I have you bookmarked to check out new stuff you weblog post.

  7. Terrific work! This is the type of information that are meant to be shared across the net. Disgrace on the seek engines for not positioning this submit upper! Come on over and consult with my site . Thanks =)

  8. Hey there! I know this is somewhat off topic but I was wondering which blog platform are you using for this website? I’m getting fed up of WordPress because I’ve had issues with hackers and I’m looking at alternatives for another platform. I would be fantastic if you could point me in the direction of a good platform.

  9. What’s Happening i am new to this, I stumbled upon this I’ve found It absolutely helpful and it has helped me out loads. I hope to contribute & aid other users like its helped me. Good job.

  10. Hello there, I discovered your site by the use of Google while searching for a similar subject, your website got here up, it seems to be good. I’ve bookmarked it in my google bookmarks.

  11. Wow, incredible blog structure! How lengthy have you been running a blog for? you made blogging glance easy. The whole glance of your site is wonderful, let alone the content!

  12. You actually make it seem so easy with your presentation but I find this topic to be really something which I think I would never understand. It seems too complicated and very broad for me. I am looking forward for your next post, I’ll try to get the hang of it!

  13. What’s Happening i am new to this, I stumbled upon this I have found It absolutely useful and it has helped me out loads. I hope to contribute & assist other users like its helped me. Good job.

  14. This is the fitting weblog for anyone who desires to seek out out about this topic. You realize so much its nearly laborious to argue with you (not that I actually would want…HaHa). You definitely put a new spin on a topic thats been written about for years. Nice stuff, simply nice!

  15. Good post. I find out something much more difficult on different blogs everyday. It’s going to normally be stimulating to read content material from other writers and practice slightly one thing from their store. I’d prefer to use some using the content on my weblog no matter whether you don’t thoughts. Natually I’ll offer you a link on your web weblog.

  16. Good day! Do you use Twitter? I’d like to follow you if that would be ok. I’m undoubtedly enjoying your blog and look forward to new posts.

  17. certainly like your web-site but you need to take a look at the spelling on quite a few of your posts. Many of them are rife with spelling issues and I to find it very troublesome to tell the truth however I will definitely come again again.

  18. Somebody essentially help to make seriously posts I would state. This is the very first time I frequented your web page and thus far? I surprised with the research you made to create this particular publish extraordinary. Magnificent job!

  19. hey there and thank you for your info – I’ve definitely picked up something new from right here. I did however expertise several technical points using this site, since I experienced to reload the web site many times previous to I could get it to load correctly. I had been wondering if your web hosting is OK? Not that I am complaining, but sluggish loading instances times will very frequently affect your placement in google and can damage your high-quality score if advertising and marketing with Adwords. Anyway I’m adding this RSS to my e-mail and could look out for a lot more of your respective interesting content. Make sure you update this again soon..

  20. Hi! I’m at work browsing your blog from my new iphone 4! Just wanted to say I love reading your blog and look forward to all your posts! Keep up the outstanding work!

  21. I’m still learning from you, while I’m making my way to the top as well. I definitely enjoy reading everything that is posted on your site.Keep the stories coming. I enjoyed it!

LEAVE A REPLY