Home अख़बार हैदाराबाद में लड़कियों ने सीखा था मार्शल आर्ट, ‘असमिया प्रतिदिन’ ने बताया...

हैदाराबाद में लड़कियों ने सीखा था मार्शल आर्ट, ‘असमिया प्रतिदिन’ ने बताया जेहादी ट्रेनिंग !

SHARE

नई दिल्ली। राष्ट्रीय मीडिया में प्रसारित की जा रही ख़बरों ने देश के भीतर उन्माद को ज़बरदस्त तरीक़े से बढ़ाया है, लेकिन इस घिनौनी पत्रकारिता में अब क्षेत्रीय मीडिया भी उतर चुका है। पूर्वोत्तर राज्यों में चलने वाले अख़बार और चैनल अफ़वाहों को ख़बर बनाकर प्रसारित-प्रकाशित कर रहे हैं। इस्लामिक चरमपंथ और बांग्लादेश से आतंकियों की घुसपैठ की फ़र्ज़ी ख़बर चलाने पर असम और मेघालय के डीजीपी को बयान जारी कर स्थिति साफ करनी पड़ी है लेकिन स्थानीय मीडिया के रवैया वही है। तथ्यों की बजाय अफ़वाहों के आधार पर सनसनी परोसी जा रही है। नया मामला असम के सबसे बड़े अख़बार ‘असमिया प्रतिदिन’ का है जिसने जेहादी शिविर की फर्ज़ी फोटो और ख़बर छापी है।

11 जुलाई को इस अख़बार ने पहले पन्ने पर कनक चंद्र डेका की बायलाइन से एक ख़बर ‘चार (नदी द्वीप) पर जेहादियों का जाल’ छापी है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि असम के दुरंग समेत मुस्लिम बहुल इलाक़ों में ‘जेहादियों का जाल’ फैलाया जा रहा है। रिपोर्ट कहा गया है कि असम में जिहाद के लिए खाड़ी देशों में ट्रेनिंग चल रही है। सोशल मीडिया के ज़रिए नौजवानों को जोड़ा जा रहा है। उन्हें रुपयों का लालच देकर आतंकवाद की तरफ ले जाया जा रहा है। डेका ने अपनी रिपोर्ट की प्रमाणिकता के लिए एक ‘जेहादी ट्रेनिंग कैंप’ की फोटो भी छापी है। इसमें स्कूल यूनिफॉर्म में एक मुस्लिम छात्रा लाठी भाँजनने की कला सीख रही है।

दरअसल, कनक चंद्र डेका की ये रिपोर्ट तथ्यों की बजाय वाट्सएप के ज़रिए फैलाई जा रही अफ़वाहों पर आधारित है। तस्वीर हैदराबाद के मशहूर सेंट माज़ पब्लिक स्कूल के ‘सेल्फ़ डिफ़ेंस प्रोग्राम’ की है जिसे फ़रवरी 2011 में स्कूल के फ़ेसबुक पेज पर अपलोड किया गया था। सेंट माज़ स्कूल इस ‘सेल्फ़ डिफेंस प्रोग्राम’ की वजह से कई बार मीडिया की सुर्ख़ियों में आ चुका है। साउथ के न्यूज़ चैनल TV9 के अलावा मशहूर वेबसाइट्स MVSLIM और SCOOPWHOOP  इस सेल्फ डिफेंस पर स्टोरी कर चुके हैं लेकिन ‘असमिया प्रतिदिन’ ने इसे जेहादी ट्रेनिंग कैंप बना दिया। (https://www.scoopwhoop.com/School-Kids-Martial-Arts/), वह भी पाँच साल बाद।

इस फर्ज़ी स्टोरी की हक़ीक़त गुवाहाटी हाईकोर्ट ने एडवोकेट अमन वदूद ने अपने फ़ेसबुक हैंडल पर शेयर करके बताया था। ‘मीडिया विजिल’ को उन्होंने बताया कि इस्लामिक चरमपंथ, घुसपैठ के बाद अब इस्लामिक जेहाद के बारे में अफ़वाहें फैलाकर ख़बर बनाई जा रही हैं। रिपोर्टर मनमाने तरीक़े से नई मस्जिदों के निर्माण और कथित घुसपैठ की वजह आबादी घटने-बढ़ने की फर्ज़ी रिपोर्ट्स छाप रहे हैं। बार-बार ऐसी रिपोर्ट्स दहशत पैदा करने के इरादे से लिखी जा रही हैं जो पूरे असम में एक ख़ास तरह का तनाव पैदा कर रही हैं।

असमिया प्रतिदिन का मालिक जयंत बरुआ है। ये शख़्स वास्तव में क्या है, ये डिब्रूगढ़ यूनिवर्सिटी के अस्सिटेंट प्रोफेसर पार्थ प्रतिम बोरा के एक पुराने आर्टिकल ‘Tame Media Mafia of Assam’ से पता चलता है। इसमें लिखा गया है कि 2011 में जब उल्फा समर्थकों ने सरकार से बातचीत और राज्य के कारोबार में सक्रिय होने की घोषणा की तो असम का सारा मीडिया इसके ख़िलाफ़ हो गया। वजह यह थी कि मीडिया मालिकान ख़ुद अवैध धंधों में लगे हुए हैं। उल्फा के आने से उनका कारोबार सीधे तौर पर प्रभावित होता। जयंत बरुआ के बारे में पार्थ लिखते हैं, ‘असम में सबसे ज़्यादा पढ़े जाने वाले दैनिक अख़बार ‘असमिया प्रतिदिन’ को असम का सबसे बड़ा ठग चलाता है। ऐसा शातिर माफ़िया ठेकेदार असम में पहले कभी नहीं हुआ। अख़बार को हथियार बनाकर ब्लैकमेलिंग करने के साथ-साथ हर बुरे काम में उसका नाम रहा है।’ (https://www.timesofassam.com/headlines/tame-media-mafia-of-assam/)

अमन वदूद कहते हैं कि ‘असमिया प्रतिदिन’ या इस समूह का समाचार चैनल घोषित तौर पर ‘राष्ट्रवादी’ हैं। चूंकि सूबे में अब सरकार बीजेपी की है तो उन्हें ख़ुश रखने के लिए ख़बरों की जगह राष्ट्रवादी ज़हर बेचा जा रहा है। अमन वदूद कहते हैं कि असम में चुनाव की घोषणा होने के साथ ही स्थानीय मीडिया रातों-रात ज़हरीली ख़बरें बेचने लगा। तब अख़बार और टीवी चैनलों पर अवैध घुसपैठ पर लगातार स्टोरी करके ध्रुवीकरण की जमकर कोशिश की गई।

यह सिलसिला अभी थमा भी नहीं था कि 1-2 जुलाई की रात ढाका हमले के बाद से असम का मीडिया इस्लामिक जेहाद पर मनगढ़ंत स्टोरी प्रसारित कर रहा है। सोमवार को असम के टीवी चैनलों पर बांग्ला भाषी आईएस चरमपंथी का एक वीडियो दिखाया गया। चरमपंथी इसमें एक शब्द ‘अल-शाम’ बोलते हुए हमले की धमकी देता है। अमन ने बताया कि चैनलों ने ‘अल-शाम’ को जानबूझकर ‘असम’ कहकर दिखाया और ये भी दावा करने लगे कि अब इस्लामिक स्टेट के लड़ाके असम पर भी हमला करने की तैयारी में हैं। राज्य के डीजीपी डीजीपी मुकेश सहाय ने 12 जुलाई को प्रेस रिलीज़ जारीकर बताया कि चरमपंथी ‘अल-शाम’ बोल रहा है ना कि ‘असम।’ असम के चैनलों और अख़बारों ने इस स्पष्टीकरण के बाद ही इस अफ़वाह का पीछा छोड़ा। (http://timesofindia.indiatimes.com/city/guwahati/IS-video-sparks-panic-in-Assam/articleshow/53184563.cms)

इससे पहले जुलाई के पहले हफ़्ते में बांग्लादेश से पांच आतंकियों के मेघालय सीमा से घुसने की फर्ज़ी अफ़वाह फैलाई गई थी। इसमें कहा गया था कि दक्षिण मेघालय की अंतरराष्ट्रीय सीमा से पांच इस्लामिक आतंकी देश में घुस आए हैं। सभी असम में हमला करने की फिराक में हैं। इस अफ़वाह के सहारे भी असम मीडिया ने दुष्प्रचार शुरू कर दिया गया था। मेघालय के डीजीपी एस.के जैन ने 7 जुलाई को बयान जारी कर इसे अफ़वाह करार दिया था। (http://indiatoday.intoday.in/story/no-truth-in-jihadhi-influx-rumours-meghalaya-dgp/1/710015.html)

कुल मिलाकर असम में ऐसी ज़हरीली ख़बरों की बाढ़ आ गई है। हालात किस कदर भयावह हैं, ये दिल्ली में रहने वाले असम के एक्टिविस्ट बोनोजित हुसैन के फ़ेसबुक स्टेटस से पता चलता है। उन्होंने लिखा, ‘मैंने असमिया चैनल प्राग न्यूज़ की प्राइम टाइम बहस में कहा और अब यहां फ़ेसबुक पर भी दोहरा रहा हूं। असम के अख़बार और चैनलों में इस्लामिक चरमपंथ को इस स्तर पर बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया जा रहा है कि अगर कोई सिर्फ़ घर में बैठकर अख़बार पढ़े और न्यूज़ चैनल देखे तो उसे लगेगा कि ये असम नहीं इराक़ या सीरिया है।’

इन तमाम फर्ज़ी ख़बरों से असमिया मीडिया के इरादे साफ़ हैं। अगर इसे समय रहते रोका न गया तो अफ़वाहों के आधार पर उन्मादी ख़बरें फैलाने की बीमारी पूर्वोत्तर के बाकी राज्यों को भी चपेट में ले सकती है।

.शाहनवाज़ मलिक

21 COMMENTS

  1. I’ve recently started a web site, the information you provide on this website has helped me tremendously. Thanks for all of your time & work.

  2. Thanks for another magnificent post. Where else could anyone get that kind of information in such a perfect way of writing? I have a presentation next week, and I’m on the look for such info.

  3. I have been reading out some of your articles and it’s pretty clever stuff. I will surely bookmark your website.

  4. We’re a group of volunteers and starting a new scheme in our community. Your website provided us with valuable info to work on. You’ve done a formidable job and our whole community will be thankful to you.

  5. Wow that was odd. I just wrote an really long comment but after I clicked submit my comment didn’t show up. Grrrr… well I’m not writing all that over again. Anyway, just wanted to say excellent blog!

  6. Good day very nice website!! Guy .. Beautiful .. Superb .. I’ll bookmark your blog and take the feeds also…I am satisfied to search out numerous helpful information right here within the put up, we need develop more strategies in this regard, thank you for sharing. . . . . .

  7. Oh my goodness! a tremendous article dude. Thanks However I am experiencing concern with ur rss . Don’t know why Unable to subscribe to it. Is there anyone getting an identical rss downside? Anyone who is aware of kindly respond. Thnkx

  8. Hiya, I am really glad I have found this information. Nowadays bloggers publish only about gossips and web and this is really irritating. A good site with exciting content, this is what I need. Thanks for keeping this site, I’ll be visiting it. Do you do newsletters? Can’t find it.

  9. Thanks for another informative website. Where else could I get that kind of info written in such a perfect way? I’ve a project that I’m just now working on, and I have been on the look out for such info.

  10. whoah this blog is magnificent i love reading your articles. Keep up the great work! You already know, a lot of persons are searching round for this info, you could help them greatly.

  11. Hey very cool site!! Man .. Excellent .. Amazing .. I will bookmark your site and take the feeds also…I am happy to find so many useful info here in the post, we need develop more strategies in this regard, thanks for sharing. . . . . .

  12. Thanks for a marvelous posting! I seriously enjoyed reading it, you could be a great author.I will always bookmark your blog and may come back very soon. I want to encourage you to ultimately continue your great posts, have a nice day!

  13. Do you have a spam problem on this blog; I also am a blogger, and I was wanting to know your situation; we have created some nice methods and we are looking to trade strategies with others, please shoot me an e-mail if interested.

  14. I do agree with all the ideas you have presented in your post. They’re very convincing and will definitely work. Still, the posts are too short for novices. Could you please extend them a little from next time? Thanks for the post.

  15. Great beat ! I wish to apprentice while you amend your web site, how can i subscribe for a blog website? The account helped me a acceptable deal. I had been a little bit acquainted of this your broadcast offered bright clear concept

  16. hey there and thanks on your information – I’ve definitely picked up something new from right here. I did on the other hand expertise some technical points the usage of this web site, as I skilled to reload the website lots of occasions prior to I could get it to load properly. I were pondering if your web hosting is OK? Now not that I’m complaining, but sluggish loading circumstances times will sometimes affect your placement in google and could harm your high-quality score if ads with Adwords. Anyway I am including this RSS to my e-mail and could look out for much more of your respective interesting content. Make sure you replace this once more very soon..

  17. Hi there! Do you use Twitter? I’d like to follow you if that would be okay. I’m absolutely enjoying your blog and look forward to new posts.

  18. Thanks for sharing excellent informations. Your web-site is so cool. I am impressed by the details that you’ve on this site. It reveals how nicely you perceive this subject. Bookmarked this website page, will come back for more articles. You, my pal, ROCK! I found simply the info I already searched everywhere and simply couldn’t come across. What a perfect site.

  19. I not to mention my buddies have already been checking out the best tips and tricks located on your web page and then all of the sudden I had an awful suspicion I had not thanked the website owner for those strategies. These boys were definitely thrilled to see them and have simply been taking pleasure in these things. I appreciate you for actually being quite helpful and for finding such beneficial subject areas millions of individuals are really wanting to discover. My very own honest regret for not expressing gratitude to earlier.

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.