Home Corona कांग्रेस का ऑनलाइन विरोध प्रदर्शन: 50 हजार फेसबुक लाइव कर मजदूरों की...

कांग्रेस का ऑनलाइन विरोध प्रदर्शन: 50 हजार फेसबुक लाइव कर मजदूरों की उठाई आवाज

SHARE

उत्तर प्रदेश में प्रवासी मजदूरों को सुरक्षित घर पहुंचाने के मुद्दे पर राजनीति और तेज होती दिख रही है। देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के शहादत दिवस पर आज यूपी कांग्रेस ने सोशल मीडिया पर योगी सरकार के खिलाफ बड़ा अभियान चलाया। अभियान के तहत कांग्रेस के करीब 50 हजारों कार्यकर्ताओं ने फेसबुक लाइव के जरिये मजदूरों की आवाज उठाई और और योगी सरकार के राज्य दमन का विरोध किया।

कांग्रेस नेताओं ने फेसबुक लाइव के पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी और प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह पर एफआईआर दर्ज करने का विरोध किया। सभी नेताओं ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की गिरफ्तारी को अलोकतांत्रिक बताया। कांग्रेस कार्यकर्ता “सेवा कार्य और तेज करेंगे, एकदम नहीं डरेंगे” टैग लाइन के साथ लाइव वीडियो शेयर कर रहे थे।

कांग्रेस की सभी पीसीसी पदाधिकारी, जिला व शहर अध्यक्ष, फ्रंटल, विभाग, सेल के अध्यक्ष/इंचार्ज इस अभियान में शामिल रहे।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कहा है कि यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी गैरकानूनी है। जिनकी पुरजोर निंदा होनी चाहिए। गौरतलब है कि अजय कुमार लल्लू लगातार श्रमिकों की मदद कर रहे थे। लखनऊ की वीरान सैडकों पर दिन, दोपहर और देर रात तक खाना, पानी और नाश्ता बांटते थे।

विधायक दल नेता श्रीमती आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी ने 1000 बसों की अनुमति मांगी थी लेकिन मजदूर-गरीब विरोधी सरकार ने यूपी सीमा पर बसों को अंदर नहीं आने दिया। 3 दिनों तक बसों को लेकर हम दुःख के साथ बेबस खड़े रहें।

उन्होंने कहा कि आगरा में मजदूरों के लिए बसों को यूपी की सीमा में लाने की पैरोकारी कर रहे अजय कुमार लल्लू को योगी आदित्यनाथ की पुलिस ने गैरकानूनी ढंग से गिरफ्तार किया। जैसे ही उनको आगरा में जमानत मिली कि गरीब और मजदूर विरोधी सरकार ने अपनी ओछी मानसिकता का परिचय दिया और लखनऊ पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

प्रदेश उपाध्यक्ष श्री पंकज मलिक और बीरेंद्र चौधरी ने कहा कि हमारे प्रदेश अध्यक्ष को 14 दिनों की पुलिस रिमांड पर जेल भेजा जाना सरकार की तानाशाही और गरीब और मजदूर विरोधी जेहनियत का मुजाहिरा करती है। पूरी पार्टी अपने प्रदेश अध्यक्ष के समर्थन और एकजुटता में खड़ी है।

कांग्रेस नेताओं ने कि आज पूरे प्रदेश में 50 हज़ार से अधिक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने अपने फेसबुक पेज पर लाइव किया और भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी की 30 वीं शहादत दिवस पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष के प्रति अपनी एकजुटता जाहिर की। तमाम कार्यकर्ताओं ने श्रमिकों की व्यथा व्यक्त की और श्रमिकों की सेवा का संकल्प लिया।

इस कार्यक्रम से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी कांग्रेस को संदेश जारी कर कहा था कि “आज राजीव गांधी जी का शहादत दिवस है, उनको याद करते हुए हम श्रमिकों की आवाज उठाएंगे और राज्य दमन का विरोध करेंगे। यही राजीव जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी”।

प्रियंका गांधी ने अपने संदेश में कहा था कि “साथियों, आपने देखा योगी सरकार का कोरोना महामारी से लड़ने का तरीका! कांग्रेस पार्टी ने प्रवासी श्रमिकों के लिए बसों का इंतजाम किया तो योगी सरकार ने उप्र कांग्रेस के अध्यक्ष को फर्जी मुकदमे लगाकर जेल भेज दिया गया।

कोरोना आपदा काल में पूरा देश एकजुट होकर महामारी से लड़ रहा है। मगर यूपी सरकार श्रमिकों के लिए बस, ट्रेन टिकट, खाने और राशन का इंतजाम करने वालों को जेल में डाल रही है”।

प्रियंका गांधी ने कहा कि “आज राजीव गांधी जी का 30वां शहादत दिवस है। राजीव जी ने देश के लिए अपनी जान दी। वे हिंदुस्तान और इसके वासियों से बेइंतहा प्यार करते थे। गरीबों का दर्द उनसे देखा नहीं जाता था।

हम सब उनकी सोच के वारिस हैं। हमने राजीव जी से सीखा है कमजोरों की मदद करना। हमें कोई नहीं डरा सकता।

राजीव जी की याद करते हुए श्रमिकों की आवाज उठाएंगे  और राज्य दमन का विरोध करेंगे।

ये राजीव जी को एक सच्ची श्रद्धांजलि होगी”।

वहीं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते पार्टी ने फैसला लिया कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर विज्ञापन देने के बजाए यह राशि मजदूर-कामगारों की मदद में लगाएगी। कांग्रेस ने कहा कि पूरे देश में कांग्रेसजनों ने भी इस प्रेरणा दिवस पर हर जरूरत मंद की सेवा का संकल्प ले अपना हर प्रयास इस दिशा में  केंद्रित करने का प्रण दोहराया है।


विज्ञप्ति पर अधारित

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.