Home ख़बर CAA, NRC और NPR के खिलाफ SC के वकीलों ने निकाला मार्च

CAA, NRC और NPR के खिलाफ SC के वकीलों ने निकाला मार्च

SHARE

सुप्रीम कोर्ट के वकीलों ने नागरिकता संशोधन अधिनियम, राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट से जंतर मंतर तक मार्च निकाला.

इस विरोध मार्च में सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़े की अनुवाई में सभी वकीलों ने संविधान की प्रस्तवना का पाठ किया.

देशभर में सीएए (CAA) के खिलाफ हो रहे विरोध-प्रदर्शन का दौर लगातार जारी है. नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में पहले विपक्षी नेताओं ने मोर्चा संभाला. जेएनयू, जामिया मिलिया इस्लामिया, अलीगढ़ यूनिवर्सिटी सहित देश भर के विश्वविद्यालय में छात्र नागरिकता कानून का लगातार विरोध कर रहे हैं.

इसी क्रम में अब सुप्रीम कोर्ट के वकीलों ने CAA, NRC और NPR के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया है.

इस मार्च के दौरान वरिष्ठ वकील डॉ. अश्विनी कुमार ने कहा -” यह हमारे लिए गौरव का विषय है कि भारत की आत्मा बचाने की लड़ाई में एक साथ आये हैं. हम समानता और धर्मनिरपेक्षता के लिए लड़ रहे हैं.

वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े ने कहा -यह एक समावेशी देश है। हमने 70 साल पहले खुद को संविधान दिया था. इसमें निहित मूल्यों की सरकार को याद दिलाने का समय है, जिसके लिए वकीलों को आज विरोध में उतरना पड़ा. हम संविधान बड़ा पवित्र ग्रन्थ हमारे लिए और कोई नहीं है.

पिछले हफ्ते भी सुप्रीम कोर्ट के वकीलों ने कोर्ट परिसर में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन किया था. ये प्रदर्शन तकरीबन 50 वकीलों ने संविधान की प्रस्तावना पढ़कर किया था.

बीते दिनों मद्रास हाई कोर्ट के बाहर भी वहां के वकीलों ने नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन किया था.

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.