Home ख़बर पत्थरगड़ी: खूँटी के खूनी पुलिसिया हमले में एक आदिवासी की मौत, दिल...

पत्थरगड़ी: खूँटी के खूनी पुलिसिया हमले में एक आदिवासी की मौत, दिल दहलाने वाली तस्वीरें

SHARE

झारखण्‍ड के खूंटी स्थित घाघरा गांव में मंगलवार को पुलिस के बर्बर लाठीचार्ज और फायरिंग में एक आदिवासी की मौत हो गई है। इसकी पुष्टि आदिवासी नेता दयामनी बरला ने की है।

खूंटी के कोचांग में पांच एनजीओ कर्मियों के साथ हुए सामूहिक बलात्‍कार के मामले में पुलिस कुछ दिनों से पत्‍थरगड़ी के नेता की तलाश में जुटी थी। गौरतलब है कि मंगलवार को घाघरा गांव में पत्‍थरगड़ी का आयोजन रखा गया था और पुलिस उसे रोकने के लिए वहां जा रही थी कि रास्‍ते में आदिवासियों और पुलिस की भिडंत हो गई। मीडियाविजिल ने इस संबंध में एक वीडियो प्रकाशित किया था।

अब देर शाम जो तस्‍वीरें और वीडियो आए हैं, वे दहलाने वाले हैं।

 

 

मीडियाविजिल से फोन पर बातचीत में दयामनी बरला ने सूचना दी कि मंगलवार को पुलिस के हमले में एक व्‍यक्ति की मौत हो गई है जबकि तीन पत्‍थरगड़ी समर्थकों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। मामला इसलिए भी संगीन हो गया क्‍योंकि पुलिस के हमले से बचने के लिए भागे आदिवासियों ने रास्‍ते में पड़ने वाले भाजपा करिया मुंडा के घर पर धावा बोल दिया।

हमले के वक्‍त सांसद दिल्‍ली में थे। आदिवासियों ने ऐसे में उनके एक सुरक्षाकर्मी को अगवा कर लिया और तीन राइफलें लूट लीं।

इससे पहले सोमवार रात को पुलिस पत्‍थरगड़ी के नेता यूसुफ पूर्ति के घर पर उसे गिरफ्तार करने पहुंची थी। प्रभात खबर के मुताबिक उसके समर्थकों ने घंटी बजाकर पहले ही सूचना दे दी और पूर्ति बच कर भाग निकले। इसके बाद देर रात पुलिस ने पूर्ति के घर की कुर्की-ज़ब्‍ती की। पूर्ति ने ग्रामसभा का बैंक खोलने के लिए जिस जगह आधारशिला रखी थी पुलिस ने उसे क्षतिग्रस्‍त कर डाला। समर्थकों की ओर से तीर-धनुष के हमले में खबर के मुताबिक डीएसपी और उनके अंगरक्षकों को चोट आई।