Home ख़बर MP: कमल नाथ के राज में खुले में शौच करने पर दो...

MP: कमल नाथ के राज में खुले में शौच करने पर दो दलित बच्चों की पीट-पीटकर हत्या

SHARE

मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले के भावखेड़ी गांव में बुधवार की सुबह पंचायत भवन के सामने शौच करने पर दो व्यक्तियों ने दो दलित बच्चों को कथित तौर पर पीट-पीटकर मार डाला. बुरी तरह पीटे जाने से दोनों बच्चे रोशनी वाल्मीकि (12 साल) और अविनाश वाल्मीकि (10 साल) को गंभीर चोटें आईं. जिला अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया.

शिवपुरी के एसपी राजेश चंदेल ने बताया कि इस मामलें में दोनों अभियुक्तों को गिरफ़्तार कर लिया गया है और उन पर हत्या का मामला दर्ज कर दिया गया है.

पुलिस के मुताबिक़ हाकिम ने दोनों बच्चों को सड़क पर शौच करने से मना किया और कहा कि सड़क को गंदा कर रहे हो. उसके बाद उसने रामेश्वर के साथ मिलकर हमला कर दिया.

पुलिस ने दोनों अभियुक्तों को गिरफ़्तार कर लिया है. जानकारी के मुताबिक़ दोनों नाबालिग रिश्ते में बुआ और भतीजे थे.

अविनाश के पिता मनोज वाल्मीकि का दावा है कि, दोनों सुबह 6 बजे शौच के लिये निकले थे. हाकिम और रामेश्वर यादव ने उनकी लाठियों से पिटाई की. उन्होंने दोनों को तब तक मारा जब तक उनकी मौत नहीं हो गई. जब मैं वहा पहुंचा तो दोनों वहा से भाग गये थे.

मृतक अविनाश के पिता मनोज वाल्मीकि ने कहा कि उनका गांव यादव बहुल है और गांव में उनके साथ जातिगत आधार पर भेदभाव किया जाता है. उन्होंने आरोप लगाया कि गांव के सभी लोगों द्वारा पानी लेने के बाद ही उन्हें हैंडपंप से पानी निकालने की अनुमति है.

मनोज का यह भी कहना है कि उनके घर पर शौचालय बनने के लिये पंचायत के पास पैसा भी आ गया था लेकिन “इन लोगों ने उसे बनने नहीं दिया.” उनका यह भी दावा है कि इन लोगों की वजह से गांव में उनके परिवार के साथ बदसलूकी की जाती थी.

मनोज और उनके परिवार के घर में शौचालय नही बनने दिया गया था. शौचालय नहीं होने की वजह से परिवार को बाहर जाकर शौच करना पड़ता था.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  दो अक्टूबर को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर देश को ‘खुले में शौच’ से मुक्त घोषित करेंगे.

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.