Home Corona लॉकडाउन 4 में दिल्ली को कुछ राहत मिली, कुछ ताले अभी भी...

लॉकडाउन 4 में दिल्ली को कुछ राहत मिली, कुछ ताले अभी भी लटके रहेंगे

आखिरकार दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कोरोना लॉकडाउन 4 की के दिशानिर्देशों का एलान कर दिया है। पढ़िए दिल्ली में अब क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा।

SHARE

सोमवार सुबह हमने आपको बताया था कि लॉक़डाउन 4 में दिल्ली को क्या-क्या रियायतें मिल सकती हैं और शाम होते-होते, हमारी ख़बर की लगभग पुष्टि हो गई है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपने स्पेशल ब्रॉडकास्ट में दिल्ली में लॉकडाउन 4 में क्या होंगी बंदिशें और क्या होंगी रियायत, इसका एलान कर दिया है।

कैब चलेंगी लेकिन 2 यात्रियों के साथ

केंद्र की गाइडलाइंस में यात्री वाहन चलाने का फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ा गया था और सोमवार शाम को सीएम केजरीवाल ने एलान कर दिया कि दिल्ली में अब कैब्स और टैक्सी चल सकती हैं। शर्त ये होगी कि कैब में केवल 2 सवारी होंगी। इन कैब सेवाओं में कार पूलिंग और कार शेयरिंग की सेवा को अनुमति नहीं मिलेगी। इसके लिए रविवार को जारी, केंद्र की गाइडलाइंस को भी आधार बनाया जाएगा। इस श्रेणी में ऑटो, टैक्सी, ग्रामीण सेवा, फटफट सेवा, मैक्सी कैब, ई- रिक्शा वगैरह सभी चलाए जा सकते हैं। इनमें से ऑटो रिक्शा और ई-रिक्शा जैसी सेवाओं में बस एक यात्री ही सफर कर सकता है। जबकि मैक्सी कैब और आरटीवी में 5 लोग सफर कर सकते हैं। वाहनों को हर ट्रिप के बाद, चालक को सैनीटाइज़ करना होगा। अन्यथा गाड़ी चलाने की अनुमति रद्द हो जााएगी।

दिल्ली मेट्रो में आपका फिलहाल स्वागत नहीं है!

सीएम ने साफ किया कि अभी मेट्रो का परिचालन नहीं होगा। ज़ाहिर है कि मेट्रो के परिचालन में सोशल डिस्टेंसिंग की तकनीकी समस्याएं हैं और इसलिए फिलहाल 31 मई तक इंतज़ार किया जाएगा और परिस्थितियों पर विचार कर के, मेट्रो सेवा शुरु करने की योजना बनाई जाएगी।

डीटीसी के दरवाज़े खुल गए..

DTC बसें फिर चलेंगी…

सीएम केजरीवाल ने एलान किया कि मेट्रो की अनुपस्थिति में, डीटीसी बसें चलाई जाएंगी। हालांकि एक बस में 20 से ज्यादा सवारी नहीं हो सकती हैं। शुरुआती वक़्त में लंबे रूट्स को प्राथमिकता मिलेगी, बस कम स्टॉप्स पर रुकेंगी और वही स्टॉप्स रखे जाएंगे, जहां आवश्यकता अधिक होगी।

दिल्ली वालों के बाज़ार होंगे अब ऑड-ईवन

तस्वीर सौजन्य – New York Times

दिल्ली में बाज़ार केवल कोई खरीददारी का मामला नहीं हैं, दिल्ली की अर्थव्यवस्था का बड़ा हिस्सा हैं। तो दिल्ली के बाज़ारों को खोलने की योजना का भी एलान हो गया है। केंद्र की गाइडलाइंस को ध्यान में रखते हुए, दिल्ली के बाज़ार, सशर्त खोल दिए जाएंगे। बाज़ारों में ऑड-ईवन के आधार पर दुकानें खोलने की छूट मिली है और एसेंशियल सर्विसेज़ की जिन दुकानों को अभी छूट मिली है, वह जारी रहेगी।
कंटेनमेंट जोन में अभी भी कड़ी शर्तें लागू रहेंगी और कुछ भी नहीं खोला जाएगा।

क्या अभी भी बंद रहेगा

धार्मिक संस्थान, शैक्षिक संस्थान, सिनेमा, स्विमिंग पूल, जिम, शॉपिंग मॉल्स आदि बंद रहेंगे।

शाम 7 से सुबह 7 की पाबंदी जारी रहेगी, इसमें कोई ढील नहीं मिली है।

स्पा और सैलून खोलने की अनुमति भी फिलहाल नहीं दी गई है।

सशर्त खोलने की इजाज़त

रेस्टोरेंट, ईटिंग पॉइंट, स्वीट शॉप, बेकरी शॉप खोली जा सकती हैं, लेकिन वहां बैठ कर खाया नहीं जा सकेगा। डिलीवरी और टेक अवे के लिए इनको खोला जा सकता है। सादी भाषा में किचन ऑपरेशनल करने की इजाज़त रहेगी। निजी दफ्तरों को खोलने की अनुमति दे दी गई है, हालांकि सिफारिश की गई है कि वर्क फ्रॉम होम को प्राथमिकता मिले।

सीमा मामले पर सीएम ने कहा कि मेडिकल कर्मियों और डॉक्टर्स के लिए सीमाएं खुली रहेंगी। इसके अलावा केवल ई-पास के आधार पर ही सीमा पार की जा सकती है। फिलहाल दिल्ली-नोएडा सीमा को कोई फैसला नहीं हुआ है, अतः यथास्थिति लागू रहेगी।

फिलहाल दिल्ली के लिए थोड़ी सी राहत तो है लेकिन अभी भी न केवल कोरोना संक्रमण का ख़तरा बरक़रार है – दिल्ली की अर्थव्यवस्था और आम जनजीवन को थोड़ी और राहत का इंतज़ार है।


हमारी ख़बरें Telegram पर पाने के लिए हमारी ब्रॉडकास्ट सूची में, नीचे दिए गए लिंक के ज़रिए आप शामिल हो सकते हैं। ये एक आसान तरीका है, जिससे आप लगातार अपने मोबाइल पर हमारी ख़बरें पा सकते हैं।  

इस लिंक पर क्लिक करें

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.