Home ख़बर संसद के विशेष सत्र का लेकर आह्वान, दिल्‍ली में जुटे लाखों किसान!...

संसद के विशेष सत्र का लेकर आह्वान, दिल्‍ली में जुटे लाखों किसान! जानिए पूरा कार्यक्रम क्‍या है

SHARE

दिल्‍ली एक बार फिर देश भर के किसानों के संकट को करीब से देखने-समझने के लिए तैयार है। इस बार हालांकि मामला थोड़ा अलग है। लाखों किसान इस बार अपने लिए एक सत्र चलाने को संसद को मजबूर करने के लिए यहां पहुंच रहे हैं। वे चाहते हैं कि कृषि संकट पर एक मुकम्‍मल संसदीय सत्र चलाया जाए और उनके सवालों पर देश चर्चा करे।

दिल्‍ली इन किसानों का स्‍वागत करने को मुस्‍तैद है। दिल्‍ली के कलाकारख्‍, पत्रकार, लेखक, फोटोग्राफर, छात्रों, अध्‍यापकों और बुद्धिजीवियों ने अपने-अपने स्‍तर पर किसानों की मुक्ति यात्रा को समर्थन देने के लिए अपील जारी की है और खुद इनके साथ शुक्रवार की सुबह संसद मार्ग पर जुट रहे हैं।

किसानों का आना कल रात से ही जारी है। आज रात तक ज्‍यादातर किसान रामलीला मैदान में जमा हो जाएंगे। दिल्‍ली के चार प्रवेश बिंदुओं से किसानों का आगमन हो रहा है। हर प्रवेश बिंदु पर उन्‍हें रामलीला मैदान तक लाने के लिए संयोजक तैनात हैं। यह रैली जिनी विशाल हैख्‍ उतनी ही अनुशासित भी है।

किसान मुक्ति यात्रा के लिए निम्‍न प्रवेश बिंदु और यात्रा शेड्यूल जारी किया गया है:

  1. गुरद्वारा बाला साहेब जी, सराय काले खां पर आंध्र प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, केरल, मध्‍यप्रदेश, महाराष्‍ट्र, तमिलनाड और तेलंगाना के किसान 29 तारीख यानी आज इकट्ठा होंगे और दिन में 11 बजे उनका जत्‍था रामलीला मैदान की ओर कूच करेगा। विवरण के लिए 9447125209 पर कृष्‍ण्‍यय प्रसाद से संपर्क करें।
  2. दूसरा प्रवेश बिंदु बिजवासन है के रेलवे स्‍टेशन के करीब सैनी मोहल्‍ले के बारात घर में राजस्‍थान और दक्षिणी हरियाणा से आ रहे किसान इकट्ठा होंगे। यहां से पदयात्रा के निकलने का समय सुबह 9 बजे हैं। संपर्क: सत्‍येंद्र हादली 9810478000
  3. तीसरा प्रवेश बिंदु उत्‍तर प्रदेश का है जहां के आनंद विहार रेलवे स्‍टेशन पर पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्‍तर प्रदेश आदि के किसान इकट्ठा हो रहे हैं। यहां से रामलीला मैदान क लिए यात्रा साढ़े ग्‍यारह बजे निकलने का तय हुआ है। विवरण के लिए प्रेम सिंह गहलावत से 9868487713 पर संपर्क किया जा सकता है।
  4. चौथा प्रवेश बिंदु सब्‍ज़ी मंडी किशनगंज है। यहां पंजाब, हरियाणा और उत्‍तराखण्‍ड के किसान आ रहे हैं। उम्‍मीद है कि वे भी 11 बजे ही पदयात्रा शुरू करेंगे। यहां पंजाब के किसान नेता डॉ. दर्शन पाल संयोजक हैं। उनसे 9417269294 पर संपर्क किया जा सकता है।

आरंभ में जो योजना बनी थी उसके हिसाब से दिल्‍ली के आठ प्रवेश बिंदुओं से किसानों को आना था लेकिन बाद में इसे चार तरफ दूसरे राज्‍यों से लगने वाली सीमा के हिसाब से तय कर दिया गया। उम्‍मीद है कि कम से कम एक लाख किसान रामलीला मैदान में आज रात तक जमा हो जाएंगे। शाम को यहां एक सांस्‍कृतिक कार्यक्रम की योजना है। शुक्रवार 30 नवंबर को ये किसान अपने समर्थक समूहों के साथ्‍ संसद मार्ग जाएंगे।

किसान मुक्ति यात्रा के अपडेट के लिए www.dillichalo.in को फॉलो करें।