Home ख़बर कोरोना: देश में सुरक्षा सामग्री की कमी के बीच सर्बिया को मेडिकल...

कोरोना: देश में सुरक्षा सामग्री की कमी के बीच सर्बिया को मेडिकल उपकरण निर्यात!

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के अनुसार, सर्बिया ने भारत के विभिन्न हिस्सों में स्थित आपूर्तिकर्ताओं से लगभग 90 टन "चिकित्सा सुरक्षा उपकरण" खरीदे

SHARE

कोरोना महामारी के कारण आज देश कठोर तालाबंदी के दौर से गुजर रहा है. देश में आम लोगों और यहां तक कि डॉक्टरों के पास बुनियादी सुरक्षा सामग्री की भारी कमी है. कोरोना महामारी की सूचना और तमाम चिकित्सा विशेषज्ञों की चेतावनी के बाद भी इस बीच भारत  ने सर्बिया को करीब 90 टन मेडिकल उपकरण निर्यात किया है. संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के अनुसार, सर्बिया ने भारत के विभिन्न हिस्सों में स्थित आपूर्तिकर्ताओं से लगभग 90 टन “चिकित्सा सुरक्षा उपकरण” खरीदे.

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) सर्बिया की ओर से ट्वीट के बाद इसका खुलासा हुआ है. सर्बियाई विंग के UNDP के 29 मार्च को अपने ट्वीट में लिखा, ‘भारत से आया दूसरा कार्गो बोइंग 747 बेलग्रेड में उतरा है. इसमें 90 टन चिकित्सा उपकरण हैं. मेडिकल उपकरणों को सर्बिया की सरकार ने खरीदा है और यूरोपीय यूनियन द्वारा वित्त पोषण किया गया है. वहीं UNDP ने फ्लाइट का इंतजाम कर जल्द से जल्द मेडिकल उपकरणों की डिलीवरी सुनिश्चित की.’ इन मेडिकल उपकरणों में 50 टन दस्ताने शामिल हैं. इसके अलावा मास्क और कवरॉल भी हैं.

यह निर्यात उस वक्त किया गया है जब देश के विभिन्न हिस्सों के डॉक्टरों और नर्सों ने सरकार को कोरोनोवायरस (COVID-19) के उपचार के दौरान उनकी सुरक्षा के लिए आवश्यक वस्तुओं को सुनिश्चित करने का आग्रह करते हुए वीडियो संदेश भेजे हैं.

वहीं, मामला सामने आने के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस तरह के किसी भी प्रकार की जानकारी होने से इनकार किया है. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि उनका प्रयास देश में चिकित्सा उपकरण और सुरक्षा गियरों की व्यवस्था बनाए रखने और कमी पर दूसरे देशों से मंगवाने का है. सर्बिंया को चिकित्सा उपकरण भेजे जाने के मामले की उन्हें कोई जानकारी नहीं है। मामले की जांच कराई जा रही है.

जबकि,केंद्र ने हाल के हफ्तों में देश में तत्काल आवश्यकता को देखते हुए कई वस्तुओं को निर्यात करने से प्रतिबंधित कर दिया है. भारत चीन और दक्षिण कोरिया सहित विदेशों से भी उपकरण खरीद रहा है.

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने ट्वीट कर सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने लिखा, ‘यह क्या हो रहा है श्रीमान प्रधानमंत्रीजी? देश में कोरोना के उपचार में लगे चिकित्सक एवं चिकित्साकर्मी सुरक्षात्मक उपकरणों के लिए संघर्ष कर रहे हैं जो हम सर्बिया को आपूर्ति कर रहे हैं. यहां से 90 टन चिकित्सा उपकरण और सुरक्षा गियर सर्बिया भेज दिए गए हैं.क्या हम पागल हैं? यह अपराध है.’

कांग्रेस के एक और नेता ने इस ख़बर पर हैरानी व्यक्त की है.

ख़बर के मुताबिक, केरल की एक कंपनी ने इन उपकरणों की सप्लाई की है. केरल स्थित सेंट मेरीज रबर्स लिमिटेड ने सर्बिया को 90 टन चिकित्सा उपकरण व सुरक्षा गियर की सप्लाई की है. कंपनी ने सोमवार को सर्बिया में सर्जिकल ग्लव्ज के 35 लाख जोड़े भेजने की बात स्वीकार की है.

 

 

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.