Home ख़बर सीनियर एडवोकेट इंदिरा जयसिंह के घर और NGO पर CBI का छापा

सीनियर एडवोकेट इंदिरा जयसिंह के घर और NGO पर CBI का छापा

SHARE
सीबीआइ के छापे के बाद घर से निकलते आनंद ग्रोवर

केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो (सीबीआइ) ने आज तड़के सुप्रीम कोर्ट की वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता इंदिरा जयसिंह और उनके पति अधिवक्‍ता आनंद ग्रोवर के दिल्‍ली व मुंबई स्थित घर और दफ्तरों पर छापा मारा है। आरोप है कि इस दंपत्ति का एनजीओ विदेशी अनुदान के उल्‍लंघन में लिप्‍त है।

सुबह पांच बजे इंदिरा जयसिंह के दिल्‍ली स्थित निजामुद्दीन के आवास पर सीबीआइ ने छापा मारा। साथ ही उनके एनजीओ लॉयर्स कलेक्टिव और मुंबई के आवास पर भी सीबीआइ की टीम पहुंची। लॉयर्स कलेक्टिव के खिलाफ सीबीआइ ने विदेशी अनुदान नियमन कानून (एफसीआरए) के उल्‍लंघन का मामला दर्ज किया हुआ है।

सीबीआइ की एफआइआर गृह मंत्रालय की रिपोर्ट पर आधारित है। उसमें सीधे तौर पर जयसिंह का नाम बतौर आरोपी शामिल नहीं है लेकिन मंत्रालय ने उनकी कथित भूमिका के बारे में रिपोर्ट में लिखा था।

थोड़े दिनों पहले ही जयसिंह और ग्रोवर ने एक प्रेस वक्‍तव्‍य जारी करते हुए अपने ऊपर लगे आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था।

ट्विटर पर बड़ी शख्सियतों ने सीबीआइ की इस कार्रवाई पर नाराज़गी जताते हुए कई ट्वीट किए हैं। सभी प्रतिक्रियाएं नीचे दी जा रही हैं।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.