Home कर्नाटक चुनाव 2018 कर्नाटक के साथ बीजेपी ने लोकसभा में बहुमत भी खोया !

कर्नाटक के साथ बीजेपी ने लोकसभा में बहुमत भी खोया !

SHARE

 

(मीडिया विजिल ब्यूरो)

 

बीजेपी ने आज कर्नाटक में सरकार ही नहीं खोई, लोकसभा में अकेले दम बहुमत भी खो दिया। कर्नाटक के मुख्यमंत्री चुने गए बी.एस.येदियुरप्पा और श्रीरामुलु ने आज लोकसभा से इस्तीफ़ा देकर कर्नाटक विधानसभा की सदस्यता ग्रहण की। इसीके साथ बीजेपी की लोकसभा में मात्र 271 सीटें रह गईं जो बहुमत के आँकड़े 272 से एक कम है। बीजेपी ने 2014 में 282 सदस्यों के साथ लोकसभा में प्रवेश किया था।

2014 में बी.एस.येदियुरप्पा शिवमोगा से और श्रीरामुलु बेल्लारी से बीजेपी के सांसद चुने गए थे। उनके इस्तीफ़ा देने से बीजेपी 271 पर सिमट गई है। इसके पहले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने जब लोकसभा से इस्तीफ़ा दिया था और बीजेपी की संख्या 273 रह गई थी, जो बहुमत से एक ज़यादा थी।

बीजेपी के पास 271 सीटें रह जाने का साफ़ मतलब है कि उसने अकेले दम बहुमत लोकसभा में खो दिया है। उसे अब बहुमत के लिए एनडीए के सहयोगियों पर निर्भर रहना पड़ेगा। इन 271 सदस्यों में बीजेपी के निलंबित सदस्य कीर्ति आज़ाद और रोज़ाना बाग़ी सुरों में प्रधानमंत्री मोदी को चेताने वाले शत्रुघ्न सिन्हा भी शामिल हैं जो बस किसी मौक़े की तलाश में लगते हैं। (यानी व्यावहारिक रूप से बीजेपी 269 सांसदों पर ही भरोसा कर सकती है।)

यूँ तो मीडिया मोदी लहर का लागातार ढोल पीटता है, लेकिन बीजेपी की लोकसभा सीटें लगातार घटती गई हैं। इसकी एक वजह लोकसभा उपचुनावों में उसकी हार भी है। 2014 से लेकर 2018 में अब तक 23 लोकसभा सीटों पर उपचुनाव हुए, जिनमें से 11 विरोधियों के खाते में थीं जिन्हें वह जीत नहीं पाई। उल्टा अपनी कई सीटें विपक्षियों के हाथों गँवा बैठी।