Home मोर्चा केंद्रीय गृहमंत्री और ओडिशा के मुख्‍यमंत्री को नियमगिरि के मसले पर खुला...

केंद्रीय गृहमंत्री और ओडिशा के मुख्‍यमंत्री को नियमगिरि के मसले पर खुला पत्र

SHARE

श्री नवीन पटनायक,

मुख्यमंत्री, ओडिशा,

भुवनेश्वर, ओडिशा

 

प्रिय मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक जी,

नियमगिरी सुरक्षा समिति द्वारा वर्षों से इंग्लैण्ड के स्टॉक एक्स्चेंज में पंजीकृत वेदान्त कम्पनी द्वारा नियमगिरी पर्वत से बॉक्साइट खनन के विरुद्ध गैर-हथियारबन्द, संविधान सम्मत आन्दोलन तथा न्यायपालिका के हस्तक्षेप के लिए सर्वोच्च न्यायालय की शरण में जाने से आपकी सरकार को भली-भांति परिचित होना चाहिए। सरकार को यह भी पता होगा कि समिति की स्थापना के समय से श्री किशन पटनायक और भारत के निर्वाचन आयोग में पंजीकृत राजनैतिक दल समाजवादी जन परिषद भी जुड़ा रहा है जिसके श्री किशन पटनायक संस्थापकों में एक थे। अस्सी के दशक में गंधमार्दन पर्वत में बॉक्साइट खनन के विरुद्ध भी किशन पटनायक, सर्वोदय नेता अलेख पात्र और मदनमोहन साहू जैसे स्वतंत्रता सेनानियों ने ऐसा ही आन्दोलन चलाया था। तत्कालीन मुख्य मंत्री व आपके पिता स्व. श्री बीजू पटनायक ने राज्य का हित समझा था तथा उस प्रोजेक्ट को मुल्तवी रखने का न्यायोचित निर्णय लिया था।

बहरहाल, नियमगिरी में अनिल अग्रवाल की इंग्लैण्ड की कम्पनी वेदान्त द्वारा खनन कराने अथवा न कराने के सन्दर्भ में माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश से तथा न्यायपालिका की देखरेख में जनमत-संग्रह हुआ था जिसमें एक भी वोट वेदान्त द्वारा बॉक्साइट खनन के पक्ष में नहीं पड़ा था। आपकी सरकार से जुड़े माइनिंग कॉर्पोरेशन के अदालत में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को बदलवाने के प्रयास को न्यायपालिका ने अस्वीकार कर दिया है। आपके गृह विभाग को यह भलीभांति पता है कि प्रतिबन्धित भाकपा (माओवादी) ने जनमत संग्रह के बहिष्कार की अपील की थी। जनता ने जैसे वेदान्त द्वारा खनन को पूरी तरह से नकार दिया था, उसी प्रकार माओवादियों द्वारा जनमत-संग्रह बहिष्कार की अपील को भी पूरी तरह नकार दिया था।

इस परिस्थिति में ओडिशा पुलिस द्वारा नियमगिरी सुरक्षा समिति से जुडे कार्यकर्ताओं पर फर्जी मामले लादने और उन्हें ‘आत्मसमर्पणकारी माओवादी’ बताने की कार्रवाई नाटकीय, घृणित और जनमत की अनदेखी करते हुए वेदान्त कम्पनी के निहित स्वार्थ में है।

पुलिस द्वारा कुनी सिकाका की गिरफ्तारी, उसके ससुर तथा नियमगिरी सुरक्षा समिति के नेता श्री दधि पुसिका, दधि के पुत्र श्री जागिली तथा उसके कुछ पड़ोसियों को मीडिया के समक्ष ‘आत्मसमर्पणकारी माओवादी’ बताना ड्रामेबाजी है तथा इसे रोकने के लिए तत्काल आपके हस्तक्षेप की मैं मांग कर रहा हूं। कुनी, उसके ससुर और पड़ोसियों पर से तत्काल सभी मुकदमे हटा लीजिए जो आपकी पुलिस ने फर्जी तरीके से बेशर्मी से लगाए हैं।

इस पत्र के साथ मैं कुनी सिकाका के दो चित्र संलग्न कर रहा हूं। पहला चित्र सितम्बर 2014 में हमारे दल द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में का है जिसमें सर्वोदय नेता स्व. नारायण देसाई द्वारा कुनी को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया जा रहा है। दूसरे चित्र में कुनी इस संगोष्ठी को माइक पर संबोधित कर रही है और हमारे दल समाजवादी जन परिषद का बिल्ला लगाये हुए है।

तीसरा चित्र गत वर्ष 5 जून पृथ्‍वी दिवस के अवसर पर नियमगिरी सुरक्षा समिति द्वारा आयोजित खुले अधिवेशन का है। इस कार्यक्रम के मंच पर सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ पर्यावरण-अधिवक्ता के सामने कुनी बैठी है, मंच पर सुश्री मेधा पाटकर व प्रफुल्ल सामंतराय भी बैठे हैं। मैं भी इस कार्यक्रम में नियमगिरी सुरक्षा समिति द्वारा आमंत्रित था तथा वह चित्र मैंने खींचा है। कार्यक्रम में पूरा पुलिस बन्दोबस्त था तथा आपके खुफिया विभाग के कर्मी भी मौजूद थे।

संसदीय लोकतंत्र, न्यायपालिका और संविधान सम्मत अहिंसक प्रतिकार करने वाली नियमगिरी सुरक्षा समिति को माओवादी करार देने की कुचेष्टा से आपकी सरकार को बचना चाहिए। राज्य की जनता,सर्वोच्च न्यायपालिका और पर्यावरण के हित का सम्मान कीजिए तथा एक अहिंसक आन्दोलन को माओवादी करार देने की आपकी पुलिस की कार्रवाई से बाज आइए।

चूंकि हमारी साथी कुनी सिकाका को गैर कानूनी तरीके से घर से ले जाने में अर्धसैनिक बल भी शामिल था इसलिए इस पत्र की प्रतिलिपि केन्द्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह को भी भेज रहा हूं। इस पत्र को सार्वजनिक भी कर रहा हूं।

 

विनीत,

अफलातून

महामंत्री, समाजवादी जन परिषद

 

6 COMMENTS

  1. What i don’t understood is in reality how you’re not actually a lot more neatly-liked than you may be now. You are so intelligent. You recognize therefore significantly in the case of this subject, made me in my view believe it from numerous numerous angles. Its like men and women are not involved unless it is one thing to do with Lady gaga! Your personal stuffs outstanding. All the time take care of it up!

  2. Howdy exceptional blog! Does running a blog like this take a large amount of work? I’ve no expertise in computer programming however I was hoping to start my own blog in the near future. Anyway, if you have any recommendations or tips for new blog owners please share. I understand this is off topic however I simply wanted to ask. Thanks a lot!

  3. you are really a good webmaster. The site loading speed is amazing. It seems that you are doing any unique trick. In addition, The contents are masterwork. you have done a excellent job on this topic!

  4. Hmm is anyone else encountering problems with the images on this blog loading? I’m trying to determine if its a problem on my end or if it’s the blog. Any responses would be greatly appreciated.

  5. whoah this blog is great i love reading your posts. Keep up the good work! You know, lots of people are hunting around for this info, you could help them greatly.

  6. certainly like your web-site but you have to take a look at the
    spelling on several of your posts. Several of them are rife with spelling problems
    and I in finding it very troublesome to tell the truth nevertheless I will definitely come again again.

LEAVE A REPLY