Home मोर्चा परिसर मणिपुर यूनिवर्सिटी छात्रसंघ के राज्य बंद के दौरान छात्रों पर पुलिस का...

मणिपुर यूनिवर्सिटी छात्रसंघ के राज्य बंद के दौरान छात्रों पर पुलिस का बर्बर हमला, हालात गंभीर

SHARE

मणिपुर युनिवर्सिटी के छात्रों पर पुलिस ने उनके प्रदर्शन के दौरान बर्बर लाठीचार्ज किया है। एक छात्र पुलिस हमले के दौरान सबकी नज़रों के सामने एक गाड़ी के नीचे आ गया जिससे उसका सिर कुचलने से बाल-बचा लेकिन हाथ टूट गया। इस हमले में सात छात्र घायल बताए जा रहे हैं।

देखें हमले का वीडियो:

मणिपुर युनिवर्सिटी छात्रसंघ लंबे समय से कुलपति आद्या प्रसाद पांडे को हटाए जाने के लिए आंदोलन कर रहा था। छात्रसंघ ने 17 से 19 जुलाई के बीच दो दिन का राज्‍य में बंद का आह्वान किया था। पांडे के ऊपर प्रशासनिक गड़बडि़यों से लेकर फंड में हेरफेर के गंभीर आरोप हैं।

छात्रों ने जब इस मांग को लेकर कुलपति के आवास को मंगलवार को घेरने की कोशिश की तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इसके बाद मामला गंभीर हो गया जब छात्रों ने मणिपुर के बीजेपी कार्यालय पर धावा बोल दिया। उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के अध्‍यक्ष अमित शाह के आदमकद पोस्‍टर फाड़ दिए। इसी के बाद पुलिस ने सख्‍ती बरतते हुए एकतरफुा तरीके से छात्रों की पिटाई चालू कर दी जिसके चलते एक छात्र सड़क पर गिर गया और पीछे से आती एक ट्रक के नीचे आ गया। उसका सिर कुचलने से रह गया लेकिन हाथ टूट गया।

छात्र संगठन देसम ने मारपीट के लिए जिम्‍मेदार पुलिसवालों को निलंबित करने की मांग की है और चेतावनी दी है कि यदि कार्रवाई नहीं की गई तो आज से वह बड़ा आंदोलन छेड़ेगा।

राज्‍यवार बंद के पहले दिन 17 जुलाई को इसका असर पूरे राज्‍य में देखने को मिला। इससे पहले छात्रों की मांगों के समर्थन में युनिवर्सिटी के सभी डीन और 28 विभागों के विभागाध्‍यक्ष अपना इस्‍तीफा दे चुके हैं। छात्रों का यह आंदोलन 30 मई को शुरू हुआ था जिनकी मुख्‍य मांग कुलपति की बरखास्‍तगी थी। पांडे ने सारे आरोपों को मनगढ़ंत बताते हुए इस्‍तीफा देने से इनकार कर दिया था।

युनिवर्सिटी करीब महीने भर से बंद पड़ी है। छात्रसंघ ने सभी इमारतों और विभागों पर ताला जड़ दिया है।