Home मोर्चा परिसर BHU: मोदी सरकार की शिक्षा नीति का विरोध करने पर 9 छात्रों...

BHU: मोदी सरकार की शिक्षा नीति का विरोध करने पर 9 छात्रों को नोटिस जारी

SHARE

बीएचयू छात्र-छात्राओं का आरोप है कि विश्वविद्यालय  प्रशासन उन्हें नोटिस देकर डराना चाहता है। ज्ञात को की 19 नवम्बर को बीएचयू में जेएनयू में फीस वृद्धि का विरोध कर रहे छात्रों के ऊपर हुई लाठीचार्ज के विरोध में ‘नरेंद्र मोदी शिक्षा विरोधी’ के बैनर तले भगतसिंह छात्र मोर्चा ने अन्य संगठनों के साथ विश्वनाथ मंदिर से लंका गेट तक मार्च किया था। जिसके बाद जनवरी में छात्रों पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए बीएचयू प्रशासन ने 9 लोगों को नोटिस जारी कर दिया है। छात्रों का कहना है छात्र-छात्राओं को नोटिस में गुमराह बताया गया है और चिन्हित लोगों को ही नोटिस दिया है।

आज 28 जनवरी को मधुबन पार्क बीएचयू में भगत सिंह छात्र मोर्चा के सदस्यों द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह जानकारी मीडिया को दी गई।

जिन छात्र-छात्राओं को टारगेट करके नोटिस दिया गया है वे सभी विश्वविद्यालय के होनहार छात्र-छात्राएं हैं और बीएचयू प्रशासन की गलत नीतियों के खिलाफ मुखर रहते हैं। भगत सिंह छात्र मोर्चा ने सितंबर में 8 दिनों का भूख हड़ताल किया था इसलिए इसके 6 लोगों को भी गलत नोटिस दिया गया है। छात्र-छात्राओं ने प्रेस को बताया कि अगर इस तरह लोगों को टारगेट करके हमला किया जाता रहा तो हम सब वाइस चांसलर का घेराव करेंगे।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि जो छात्र छात्राएं बीएचयू में अराजकता और तोड़फोड़ करते हैं प्रशासन उसको कोई नोटिस नहीं देता है उल्टा उन्हें शह देता है। प्रेस को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि 19 नवम्बर को मार्च के दौरान भी एबीवीपी के पतंजलि पांडेय और अरुण चौबे सहित अन्य ने शांतिपूर्ण मार्च में लड़के-लड़कियों पे हमला किया, उनसे गाली गलौज और धक्का मुक्की की थी। क्या प्रशासन ने उन्हें कोई नोटिस दिया?

भगत सिंह छात्र मोर्चा बे इस नोटिस को अस्वीकार करते हुए नोटिस को जलाया। साथ ही प्रशासन को यह बताना चाहता है कि हम सब दुर्भावनापूर्ण असंवैधानिक नोटिस से डरने वाले नहीं है। बीएचयू देश के संविधान के ऊपर नहीं है और हम सभी संविधान के अनुसार काम करने वाले संगठन है। इस कांफ्रेंस को बीसीएम उपाध्यक्ष विश्वनाथ, सह -सचिव आकांक्षा,नितीश, आयुषी भूषण ने संबोधित किया। प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीएचयू के अन्य संगठनों जैसे एससी/एसटी कमिटी ,परिवर्तनकामी छात्र मोर्चा व अन्य ने भगतसिंह छात्र मोर्चा का समर्थन किया।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.