Home मीडिया MP हनी ट्रैप: खुलासा करने वाला अख़बार का दफ्तर सील, संपादक पर...

MP हनी ट्रैप: खुलासा करने वाला अख़बार का दफ्तर सील, संपादक पर IT एक्ट के मामले दर्ज

SHARE

हनी ट्रैप मामले में नए खुलासे करने वाले लोकस्वामी के संपादक और पत्रकार जीतू सोनी और उनके साथियों को के ठिकानों पर पुलिस और प्रशासन की टीम ने छापेमार कार्रवाई को अंजाम दिया। संस्थान के मालिक पर आईटी एक्ट के तहत प्रकरण भी दर्ज किया गया है।

समाचार पत्र के कार्यालय को भी सील कर दिया गया।

संस्थान से जुड़े लोगों ने इसे बदले की भावना के तहत कार्रवाई बताया।

डिजिटल प्रेस क्लब,भोपाल ने इसे प्रेस की आजादी को दबाने की साजिश करार दिया हैं। प्रेस क्लब द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि लोकस्वामी के संपादक और पत्रकार जीतू सोनी और उनके साथियों को इंदौर पुलिस द्वारा परेशान किये जाने का हम पुरजोर विरोध करते हैं।

मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं कांग्रेस के अन्य आला नेताओं से अनुरोध है कि वे निरंकुश होती नौकरशाही को तत्काल रोकें!

कहीं ये हनी ट्रैप में फंसे नेताओं और अधिकारियों की खुलती पोल को रोकने की दबाव बनाने की सांझा मिली भगत तो नहीं। कहीं अगली कड़ी सरकार के लिए क्या भारी पड़ने वाली है ?

मुख्यमंत्री कमलनाथ को लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला करने वालों पर तत्काल कार्यवाही करनी चाहिए। सरकार और इंदौर प्रशासन को देश के मीडिया के समक्ष कार्यवाही की जरूरत और उसके बिंदु तथ्यवार रखने चाहिए।

डिजिटल प्रेस क्लब,भोपाल प्रेस की आजादी पर किसी भी तरह के हमले के विरोध में है और इसकी घोर निंदा करता है।

रविवार को इंदौर एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने मीडिया को बताया कि जीतू सोनी के होटल माय होम के खिलाफ शिकायत मिली थी। पुलिस कार्रवाई के दौरान होटल में 69 महिला मिलीं। महिलाओं के बयानों के आधार पर पुलिस ने होटल मालिक जीतू सोनी और अमित सोनी के खिलाफ केस दर्ज किया है।

पुलिस ने हनी ट्रैप मामले के फरियादी इंदौर नगर निगम के अधिकारी हरभजन सिंह की शिकायत पर जीतू सोनी और अन्य के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया।

पुलिस ने बताया कि यह छापेमारी जितेंद्र सोनी के तमाम ठिकानों पर की गई है जोकि सांझा लोकस्वामी के संपादक हैं। उनपर हनी ट्रैपिंग का आरोप है, जिसके चलते इंदौर के उनके ठिकाने पर छापेमारी की गई है।

आरोपी अमित सोनी और उनके पिता जीतू सोनी के खिलाफ एमआईजी थाने में आईटी एक्ट के तहत, पलासिया थाने पर ह्यूमन ट्रेकिंग और तुकोगंज में होटल में काम करने वाले कर्मचारियों की जानकारी नही देने की धाराओं में केस दर्ज किया गया है। इसके अलावा कनाड़िया थाने में आर्म्स एक्ट के तहत की कार्रवाई की गई है। मामले में अमित सोनी को गिफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार यह छापेमारी उन तमाम वीडियो को जब्त करने के लिए किया गया है जिसे हनी ट्रैपिंग के लिए बनाया गया था।

भोपाल की पत्रकार ममता यादव ने कहा कि “दौर में प्रेस की आजादी पर कमलनाथ का अघोषित आपातकाल… मध्य प्रदेश के इंदौर से प्रकाशित होने वाले संध्या दैनिक लोकस्वामी समाचार पत्र द्वारा लगातार हनीट्रैप मामले में सफेदपोशों के काले कारनामो को उजागर किये जाने से बौखलाई कमलनाथ की कांग्रेस सरकार ने समूचे प्रशासनिक तंत्र द्वारा झोंकी अखबार के विरुद्ध शक्ति.. समाचार पत्र के कर्ता-धर्ता के इंदौर शहर में स्थापित विभिन्न प्रतिष्ठानों पर भारी पुलिस बल की आश्चर्य जनक सक्रियता..”

दरअसल लोकस्वामी ने हनीट्रैप में जिन दो लोगों का खुलासा किया उनमें एक विपक्ष के वे नेता हैं दूसरे वो अफसर जो पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के करीबी थे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.