Home मीडिया लोकमत ने दिया 15 साल की सेवा का फल, एक झटके में...

लोकमत ने दिया 15 साल की सेवा का फल, एक झटके में छीनी नौकरी, पढ़ें पत्र

SHARE
लोकमत दिल्ली संस्करण के लोकार्पण की तस्वीर

लोकमत में पिछले 15 साल से कार्यरत कालिदास साव की सेवाओं का फल लोकमत ने उन्‍हें एक झटके में नौकरी से बाहर निकाल कर दे दिया हैं कालिदास की बोर्ड ऑपरेटर के रूप में कंपनी को अपनी सेवाएं ईमानदारी से दे रहे थे।  आज महंगाई के जमाने में भी  उन्हें मात्र 11 हजार रुपये ही मिल रहे थे। इसी में अपने परिवार का गुजारा कर रहे थे। कालिदास अपने ऊपर हो रहे अन्‍याय के खिलाफ अदालत की शरण में गए थे, जिसके बाद उन्‍हें नौकरी से बाहर निकाल दिया गया।

कालिदास इस अन्‍याय के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए प्रतिबद्ध है और इस लड़ाई में समय-समय पर आप सभी के मार्गदर्शन और सहयोग की उपेक्षा करते हैं। कालिदास का लिखा पत्र यहां पढ़े-

 


पत्रकार की आवाज़ से प्राप्‍त

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.