Home लोकसभा चुनाव 2019 राहुल गांधी पर स्‍मृति ईरानी का दूसरा आरोप भी झूठा निकला, चुनाव...

राहुल गांधी पर स्‍मृति ईरानी का दूसरा आरोप भी झूठा निकला, चुनाव आयोग ने कहा वीडियो फर्जी

SHARE

अमेठी में पांच साल से मेहनत कर रहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी आखिरी मौके पर चौबीस घंटे में लगातार दो बार गच्‍चा खा गईं। पांचवें चरण में अमेठी लोकसभा सीट पर सोमवार को हुए मतदान के दौरान एक वृद्धा का वीडियो ट्वीट करते हुए उन्‍होंने राहुल गांधी पर आरोप लगाया कि वे बूथ पर कब्‍ज़ा करवा रहे हैं।

अमेठी के जिलाधिकारी ने तो इस आरोप का खंडन किया ही, अब चुनाव आयोग ने ईरानी के इस आरोप को ‘’गलत’’ करार दिया है।

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍य निर्वाचन अधिकारी वेंकटेश्‍वरुलु ने कहा है कि स्‍मृति ईरानी के बूथ कैप्‍चरिंग के आरोप गलत हैं। उन्‍होंने कहा है कि प्रसारित वीडियो क्लिप में वृद्धा के लगाए गए आरोप ‘’बेबुनियाद’’ हैं।

इससे ठीक एक दिन पहले उन्‍होंने एक व्‍यक्ति का वीडियो ट्वीट करते हुए आरोप लगाया था कि वहां के अस्‍पताल ने आयुष्‍मान कार्ड धारक उक्‍त व्‍यक्ति के परिजन का इलाज नहीं किया जिससे उसकी मौत हो गई। अस्‍पताल के निदेशक ने इस आरोप का खंडन करते हुए कहा कि उक्‍त व्‍यक्ति आयुष्‍मान कार्ड धारक नहीं था फिर भी उसका इलाज किया गया। इस घटना ने ईरानी के दावे की हवा निकाल दी।

फिर भी वे नहीं मानीं और बूथ कैप्‍चरिंग जैसे संगीन मामले में एक वृद्धा की बात पर भरोसा कर बैंठीं। चुनाव आयोग ने कहा है कि ईरानी द्वारा वृ‍द्धा का जो वीडियो क्लिप पोस्‍ट किया गया है उससे छेड़छाड़ की गई है।

दिलचस्‍प यह है कि ईरानी के दोनों फर्जी आरोपों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिना मौका गंवाए ले उड़े और उन्‍होंने अपनी जनसभाओं व रैलियों में इन्‍हें दुहरा दिया। अब दोनों आरोप गलत निकलने पर न केवल ईरानी की किरकिरी हुई है बल्कि मोदी भी झूठे साबित हुए हैं।

 

 

 

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.