Home अभी-अभी सरकार मस्त, एसएससी भ्रष्ट, छात्र त्रस्त, एसएससी में होने वाले भ्रष्टाचार को...

सरकार मस्त, एसएससी भ्रष्ट, छात्र त्रस्त, एसएससी में होने वाले भ्रष्टाचार को लेकर छात्र सड़क पर

SHARE

17 फरवरी से 21 फरवरी तक हुई एसएससी टियर-2 की परीक्षा के पेपर आउट हुए हैं, लेकिन परीक्षा सिर्फ 21 तारीख की रद्द करवाई गई। इसके अलावा उनका कहना है कि पिछले कुछ समय से परीक्षा हॉल में प्रवेश से पहले सख़्त जाँच के बावजूद एसएससी की परीक्षाओं के क्वेश्चन पेपर और आंसरशीट के स्क्रीनशॉट बाहर आ रहे हैं और सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। एक ओर जहाँ मोदी सरकार सरकारी नौकरियों में कटौती करती जा रही है, वहीं बची-खुची नौकरियों में ऐसी गड़बड़ियां देश के युवाओं को भविष्य और रोजगार के लिहाज से असुरक्षित और बड़े असमंजस की स्थिति में डाल रही है। छात्रों का कहना है कि एसएससी पेपर लीक होने की सीबीआई जांच कराए और 17 से 22 फरवरी को जो परीक्षा आयोजित की गई थी उसको केंसल कर दोबारा से नकलविहीन परीक्षा आयोजित करे।

सीबीआई जांच की मांग मान ली गई है, लेकिन यह साफ नहीं हो पाया है कि सीबीआई, एसएससी द्वारा आयोजित पूरे केलेंडर वर्ष की परीक्षाओं की जांच करेगी या 17 से 21 फ़रवरी तक के पेपरों की। छात्रों का कहना है कि जब तक पूरे केलेंडर वर्ष की परीक्षाओं की जांच की मांग नहीं मानी जाती वे अपना आंदोलन खत्म नहीं करेंगे।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.