Home पड़ताल रवीश के इस शो को वायरल करें, वरना जज लोया की मौत...

रवीश के इस शो को वायरल करें, वरना जज लोया की मौत पर बर्फ़ की सिल्ली डाल देगी दिल्ली !

SHARE

सोहराबुद्दीन फर्ज़ी मुठभेड़ मामले में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की भूमिका की जाँच कर रहे जज बृजगोपाल लोया की मौत पर उनके परिवार के लोग संदेह जता रहे हैं। वे साफ़ कह रहे हैं कि जज लोया को सौ करोड़ रुपये रिश्वत की पेशकश हाईकोर्ट के एक जज ने की थी और मौत के बाद पुलिस या प्रशासन नहीं एक आरएसएस का आदमी परिजनों को सूचना दे रहा था। उसी के हाथ जज लोया का मोबाइल फोन घरवालों को भेजा गया जिसके सारे डिटेल ग़ायब थे।

1 दिसंबर 2014 को बिना किसी बीमारी के अचानक जज लोया की मौत की कहानी यूँ ही दफ़्न हो जाती अगर पत्रकार निरंजन टाकले इसकी गहराई से पड़ताल न करते। उनकी पड़ताल से साफ़ हुआ कि यह कोई सामान्य मामला नहीं है। लेकिन उनकी पत्रिका “द वीक” इस ख़बर को छापने का साहस न कर सकी। अब जज लोया के पिता, बहनें और बेटे ने कैमरे के सामने आकर पूरी कहानी बताई हैं और ‘कारवाँ’ ने इस सनसनीख़ेज़ स्टोरी को लाने का साहस दिखाया है।

हाँलाकि कुछ समय पहले यह आम बात थी, लेकिन अब इसे ‘साहस’ ही कहना पड़ेगा क्योंकि ऐसी हंगामेदार स्टोरी को पूरा मीडिया दबाने में जुटा है। ले देकर ‘मीडिया विजिल’ जैसी कुछ वेबसाइटों ने इसे फ़ालो किया है। कारोबारी मीडिया को तो जैसे साँप सूँघ गया है। वहाँ पद्मावती के लिए तलवार लहराते उन्मादी हैं, अभिनेत्री की नाक कान काटने का ऐलान है, तीन तलाक है, चीखते हुए ऐंकर और मौलाना हैं, राममंदिर है, लेकिन देश की हालत को लेकर बेहद डराने और चिंतिति करने वाली इस ख़बर का ज़िक्र नहीं है।

मीडिया विजिल में छपी इस पूरी कहानी को यहाँ पढ़ सकते हैं-

एक जज की मौत : The Caravan की सिहरा देने वाली वह स्‍टोरी जिस पर मीडिया चुप है

और हाँ

कल यानी 22 नवंबर को टीवी पत्रकारिता के ‘अपवाद कुमार’ यानी रवीश कुमार ने एनडीटीवी के अपने ‘प्राइम टाइम’ में इस स्टोरी को पूरी शिद्दत से पेश किया। रवीश के अलावा आप उम्मीद भी किससे करते हैं। ज़रूरत है कि इस शो को सोशल मीडिया पर वायरल किया जाए ताकि इस बेहद महत्वपूर्ण ख़बर पर दिल्ली बर्फ़ की सिल्ली न डाल सके। पहले देखिए और फिर मित्रों को बढ़ाइए ताकि तमाम ज़रूरी सवाल किसी शोर में दम न तोड़ने पाएँ —

232 COMMENTS

  1. If judicial fraternity, specialy judges are silent it means contrary to their image they are fearful and not fearless. And a good no even in high judiciary love money even Yen. ( Remember chandrashekhar high court judge who decided that, if Maruti workers given bail F. D. I. would not come). Unless mounting public pressure visible on roads N othing will happen

    • जब तक इमानदार लोग अपने घरों में चुप बैठे रहेंगे ।तब तक अत्याचारी नंगा नाच करते रहेंगे ।आज जरूरत है कि अच्छे लोग घर से बाहर निकल कर पड़ोस में निर्भिकतापूर्वक चर्चा तो कम से कम करें ।जब गर्म हवा बहेगी तो कल तुफान जरूर खड़ा होगा।–ललन भगत,मुजफ्फरपुर ।

        • सबसे पहले आप जैसे निर्भीक पत्रकार को मेरा salute .आपने अपना काम निष्पक्षता से किया अब जनता की बारी है अगर आज चुप हो गये तो जीवन भर गूंगे बहरे बने रहेंगे ।

      • रविश जी आज प्रमुखता से चर्चा में ये प्रकरण दर्ज कराया गया है मैं आभारी हूँ ।
        आज धुंआ है कल चिंगारी होगा
        हम सब लोग इस चिंगारी से अधर्म के राछस को समाप्त करेंगे

        • रवीशजी , हैरानी तो इस बात की है कि इन्साफ करने वाले की हत्या इन्साफ करने वालों की मौजूदगी में हुई!?
          मुझे याद है सीबीआई प्रमुख जोगिंदर सिहं काबढता
          रूतबा देख सरकार ने उन्हें राह से ही हटाने की तरकीब बना डाली थी।
          कुलमिलाकर सच तो यह है मौत शक के घेरे में है।इस घेरे की दीवार बहुत मोटी है।

          • तो क्या हुआ बुध 2 से घड़ा भरता ह
            आज नही तो कल , ऊपर बाले के यह देर है अंधेर नही

        • Aapko kiska intzaar hai fook mariye, raakh k dher ko udaiye aur chingari ko aag banane ka prayas kare. Tabhi kuchh hasil hoga sirf yaha.likh dene bhar se kuchh badlav nahi aane wala, datkar hame sangharsh karna hoga.tabhi papiyon ko saza.mil payegi

        • Jinhe jial me hona chahiye tha aaj unhe neta bana kar desh chalaane ko de diya he waha re india waalo tum hindu muslim ke jhagde me itne andhe ho gaye ho ki apne vote galat hathon me dekar apne hi desh ko barbaad karwa rahe ho ab padne likhne ka kya faayda jab anpad jahil gawaar gunde khuni lutero ko hi neta banakar desh ki dor inke haath me dedi he ab to upar waala hi is desh ko barbaad hone se bacha sakta he

      • Achchhe logoki achchhai yah nahi ki vooh sachko samje or chup baith jaye. samjdaarlogon ki jyada jimmadari hai is bharatvarsh ke prati..
        “Satyamev Jayate”

      • Jispe es case ka shak hai iska purana etihaas apradhik raha hai bhayo qatil khud punchh raha hai ki qatil kisne kiya hai aur sara system ek tadipaar ko bachane mai laga hai sach mai bhaiyo desh badal raha hai agar ap ab bhi na jage bhaiyo to samajh lena agla number apnka hai please raise voice agaist such type of cold blooded murder of temple of juristic person

  2. The Caravanहिम्मत दिखा सकता है , तो बाकी मीडिया कहां है??
    वाकई, दिल्ली मामले को लीप पोत देगी!!

  3. Bhai aap midiya Wale to samaj ka darpan hai aaj apna Desh Dharm nirpech nahi dharmandta ki taraf bad Raha hai aaj padi padvi per baithe judge mare jayege to Bharat Mai jastis kaha Milne wala hai Congress ho ya sattadhari bjp koi jastish nahi karta ab public Jay to kaha Jay lekin aj Mai khul kar iss ghatna ki ninda nahi sakht virodh karta hu Kahi aaj Jo judj ke sath ghatna ho Sakti to fir aam log kaha hai kaha aur baki midiya kyo modi aur Amit Shah ke talwe chat rahe hai ok ji

    • Sahi kaha aapne in chand media walon aur netaon ki wajah se hamara desh aur barbaad hta ja rha h jo in gunahgar netaon ko bachane pr tuli h jis trh ye media wale aaj talwa chat rhe h kal wo v in gungaron ke shikar ban sakte h hm aur aap v ban sakte h. Aaj sirf ndtv hi apna kartabya nishtha purwak nibha rhi h baki to beeke hue h saare

    • Ek naya chalan chal pada hai jo bhi baat kahi jaye wo sarkar k paksh mein ho tou thik otherwise hr would sach jo inke khilaf ho wo deshdroh hai.

        • Thanks ravish ham aapke sath h is case ko anjam tak le jana h doshi ko saja honi hi chahiye sarkar ne ak der bana diya h jab y togadyia ka yeh hal kar sakte h to auro ki kaya bisat lakin pap ka ghada jaldi hi futega

  4. Ravish kumar ko lakh lakh salute..
    Jo jab Ghatna samne aane par usko prime time mai prasarit kiya..
    Jo log andh bhakt Ravishkumar ko bolte hai ki jabb ghatna bani tab kahana
    But jab dhunva dhikta hai tab kahi n kahi Aag hoti hai.
    To thoda wait karo.
    Ane sachhai ko saath do.

    • India ki barbadi ka sabse bada reason yehan ke logon ki gandi soch hai jisme agar mujhe 5 dande lagen aur mere padoshi ke 10 dande lagen to hamen jo 5 dande pade uska dukh nahi hoga balki hamen hamare padoshi ke 10 dande padne ki khushi hogi. Jabki hona yeh chahiye tha ki dono pite hue logon ko milkar pitne wale ka marte marte bharta bana de. Phir chahe vah koi bhi ho.

  5. Yeh bahoot dukhad hai per uchadhikari moti rakam laker apnee life koo VIP zone aum suvidha maintain kernee ke lea bahoot kuch kertee hai
    Wastav mee hamaree desh me adhikari , leader hi brust hai yeh eak DNA kee terha hogayea hai .
    Leader hii easee desh kaa sabsee big choor hai aum poltics chooro ka big bajar hai jesamee Amit sah aum Modi kaa nakab usee bajar kaa eak Bara saa khelawana hai
    Media kaa market value uska eak role model hissa hai jo us bazar mee bekata hai

    • Har samay Ka ek samay….Jo kal tha wo aaj Nahi….Jo aaj surma hai wo kal nahi to parso dharashai honge….Sikandar chalegi ab ye Bandar hai Kal yebhi challenge…….

  6. रवीस की यह रिपोर्ट दिल्ली के राज काज का आयना है .और पत्रकारिता में किसी के भी जिन्दा होने का सबूत भी , सच कहने वाले उन थोड़े से पत्रकारों को सलाम

  7. रवीश जी अब तो बस आपसे ही उम्मीद बची है। वरना सारा मीडीया तो राम रहीम पद्मावती और मंदिर मस्जिद मे ही मजे मे है ।

  8. Jo boya Hai, use kaatna to padega hi! Har Har Modi, ghar-ghar Modi ka chamatkar aapko aur Hume khoon ke aansu rulayega. Log satta ke swad se oob Gaye the. Naye swad ka mazaa lijiye. Achhi baaton ko sarahiye bhi, par desh main phail rahi arajakta ka purzor virodh bhi zaroor hona chahiye.

  9. Agarayse hi imandar logo ko gunde marte rahenge aur pablik aawaj nhi uthaygi to aek din aysa aayga ki jo imandar log abhi hai es desh me sab ko mar diya jayga aur kanun ko gunde chalaynge gunda gardi se aur logo ka bharosa kanun se khatam hojayga jago desh wasiyo galat ko galat bolo aur sach ka sath do agar es desh me rahne wale sare logo ko mil kar burai ke khilaf aawaj uthana hoga tabhi desh aage badhega aur jab desh aage badhega to desh me khushali aayga ….

  10. जब से भाजपा की सरकार आई है, देश में चारों ओर डर व भय का वातावरण बन गया है। मिडिया जो लोकतंत्र का चोथा स्तम्भ कहा जाता है, लगता है कुछ एक पत्रकारों को छोड़ कर बिक चुका है। सही खबर तो यह दिखाते ही नहीं। लगता है यह मोदी भक्त मिडिया वही रामराज्य लाने के लिए आतुर है, जिस रामराज्य में राजा ने प्रजा में शिक्षा का प्रचार प्रसार करने वाले शम्बुक का वध कर दिया था।

  11. बहुत ठीक रवीश कुमार जी आप कलयुग के राजाहरिश्चन्द जी हैं।आपको सत सत नमन

  12. रवीश जी NDTV.The Carvan पत्रिका के रिपोर्टर सहित पूरी टीम को बहुत साधुवाद ।आपकी हिम्मत ,निर्भीकता के कारण ही आज एक जज की मौत के रहस्य से पर्दा उठा है ।बात निकली है तो दूर तलक जाएगी ।समरथ को नहीं दोष गोसाईं ।

    • जब न्याय को भ्रष्ट नेता व भ्रष्ट जज ही दबाने मे लगे है तो किसे चुने हम आम नागरिक वाकई मे अमित शाह पर सवालो की झड़ी लगी है मैरे देश की जनता कब सही निर्णय लेना सिखेगैं.

  13. लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ साहसी,कर्तव्यनिष्ठ,देशभक्त, पारदर्शी पत्रकारिता मे अग्रणी रवीश जी को धन्यवाद एवं सलाम|

    • So called संस्कारितों को अंग्रेजों के सहयोगी तथा राष्ट्रीय भावना एवं एकता व अखण्डता को नुकसान पहुंचाने वाले मानते हुए ही तत्कालीन उपप्रधानमंत्रीजी नें इनकी संस्था को प्रतिबन्धित कियाथा !
      जज को खत्म करवाना इनके लिए साधारण वाकिया है !

  14. सबसे पहले मेरी तरफ वरिष्ठ पत्रकार श्री रवीश कुमार जी को नमस्कार । जो इन्होंने जज सहाब का उठाकर जनता के सामने पेस किया । जिससे सभी को मालूम हो जाये ।जिससे जज सहाब न्याय मिले । और पब्लिक जागरूक हो। ऐसे हत्तायरे शाह हो सजा दिलवाने की मुहीम को उठाने के कदम सत सत नमन जय भीम जय भारत जी

    • रवीश कुमार जी,आप जैसे लोगों की हमारे देश को जरुरत है।कहते हुए बहुत खेद होता है कि मीडिया किसी भी राष्ट्र की धुरी होती है जो लोगों तक सही जानकारी पहुंचाने का माध्य्म है,किन्तु दुःख इस बात है कि देश को सही दिशा देने बाले ही लोग ही दिशा हीन हो चुके है,मुद्दे से भटका रहे हैं, यह जो आपने दिखाया है,इसे भी यह भृष्ट मीडिया बाले झूंठा साबित करने का काम करेंगे,इनका काम तो झूँठ को सच ,सच को झूँठ साबित करना ही रह गया है,100 में से 99 बेईमान, फिर भी भारत देश महान,जय हिंद ,

    • रवीश कुमार जी,आप जैसे लोगों की हमारे देश को जरुरत है।कहते हुए बहुत खेद होता है कि मीडिया किसी भी राष्ट्र की धुरी होती है जो लोगों तक सही जानकारी पहुंचाने का माध्य्म है,किन्तु दुःख इस बात है कि देश को सही दिशा देने बाले ही लोग ही दिशा हीन हो चुके है,मुद्दे से भटका रहे हैं, यह जो आपने दिखाया है,इसे भी यह भृष्ट मीडिया बाले झूंठा साबित करने का काम करेंगे,इनका काम तो झूँठ को सच ,सच को झूँठ साबित करना ही रह गया है,100 में से 99 बेईमान, फिर भी भारत देश महान,जय हिंद ,

  15. Ravish ji ke himmat ko mai daad deta hun jab pura desh dar ke mahaul me ji raha hai waha ravish ji jaisa waikti mare gaye judge ko zenda kar diya khun kabhi chupta nahi

  16. Dear Amish Ji
    u r the single one among media men whose probity is proof for media and urge the rest of media channels too maintain their dignity..

  17. Very nice sir.
    Bjp ne 125 corore desvasiyon KO dhokha diya hai.
    Kuch kaam nai Karna inko.
    Kewal Mandi ka mudda,
    Hindu Muslim ka mudda,
    Wo bhi sirf election jitne k liye
    Aise party se pls Bhai aap sab sambhal jaaye.
    Modi k andh bhakt saavdhan.

  18. आप महान हो.रविश.जी,जो सत्य के पथ पर अग्रसर हो ,वह.भी तब, जब बिना कागज पर लिखे व बिना घोषित की.हुई आपातकाल अवधि के बीच आप संकटो कि सामना करते हुवे आगे ही बढते जा रहे हो। आपकी विजय निशचित कहै ।

  19. This news puts that RSS worker in doubtful position, till late we thought RSS was fighting for the Hindus rights, but now it’s role is doubtful…. ” aag kitni bhi sunehri ho bujhani hogi, warnaa ye Aapke ghar jaegi tab kya hoga..”

  20. Problem tow yahi hai ki ache log muh pe tala lagaye baithe hain.Aur koi alternative hai kya…. Pahle congress aur aub congress minus Gandhi family ish desh ko loot rahe hain.

    • Aaj kaal mediya bhe kaam nahe h .neta k agepiche hote h .sahe chejo ko nahe better. Mere to news dekhna hi band Kat diya asp bhe Kat do

  21. लोग तो अब भी नहीं समझ रहे।और जब समझने कि कोशिश करेंगे तब समझ ही नहीं पाएंगे कि क्या हो चुका है।

  22. Ravish g bahut khub ap sachchai ko
    samane laiye our gunahgar ko saja dilaye ham sb aap ke shath h I salute mai aap se judana chahta hu taki kahi kuchh galat ho to riport aap de ske

  23. Ravisha very honest and bold . We are you spout . Puri imandari se khaber do . Abhi bahut bewakuf jo samaj hi nahi pare .I am salute you . Good job

  24. केवल रबीश कुमार असली पत्रकार है इस घटना का खुलासा जरृरी है

  25. Kaha hai Sab se tej aaj tak
    Sirf sarkar ke talve chat kar No.1 bani hai aaj tak
    I salute my idols Ravis Kumar
    Is sarkar ko to hum Gujarat me uski aukat dikha ye ge…..

  26. संत रामपाल (हिसार) हरियाणा, ने भी भारती न्यायपालिका की पोल खोली थी। 3 पुस्तक जजो के खिलाफ लिखी थी, जिसकी वजह से हाई कोर्ट के भरष्ट जजो ने झूठ में अवमानना का केस डाल कर एक निर्दोष संत को जेल में 5 साल जेल में डाल दिया। अभी तक 1 भी आरोप साबित नही हुआ, 2 कैसो में बड़ी हो चुके जमानत क्यों नही मिली। देशद्रोह दाल दिया।

  27. Ravesh kumarji hamtumare sath hai apbhe aek parte bnavo our aeshe poletikal gundo ko publek kae samne nanga karo vo kam serf ravesh kumar karsakte hae bake medya bhek cuke hae bigesh newyus daeker apni TRP bhadti hae poletisyanke talve chat tehae

  28. Today media is very powerful and selective in there approach. Jaha paise milta hai waha media hota hai. NDTV nee kitne Congress kee ghotaloo Koo dabaya hai. Aaj jab ek Sarkar fesala Lene kee himat rakhti hai aur achee decision le Rahi hai to hat dhokee pichee padee hai NDTV wale. Hee media PURA bika huwa hai.

  29. Aaj hamare desh bharat ki democracy lagbhag khatm se ho gii he yaha modi jese hitler aur amit shah jese gundoo ka raaj he yaha jaha per aam janta ja bharosa niyaya palika se bhi lag bhag khatam ho raha he aaj kisi bhartiye naagrik ko bolne tak ki azadi nhi imandar officers aur judges ko daraya dhamkaya jaa raha he aur jo apni imaandaari pe Adey hue hein un logo ko maar diya jaraha he lekin paap ka ghada ek na ek din zaroor. Bharega Aur atayachari ka daman hoga

  30. Ravish,very good for highlighting the truth.salute to judge loya.guily should be awarded with regour punishment. CBI should again appoint panel fpr inquiry,waiting for.

  31. Ispe Judge community ko,pm ko,aur khud Amit shah ko aage AAKER Jawab Dena chahiye….lekin koyi nhi aaya…isse yeh pta chahta Hai Tino Mile Hai… Police aur CBI bhi utni hi jimedar Hai..Lekin yeh sub tab bolte Jab Amit shah ke Ghar ka koyi Marta ya PM feku ke Ghar ka koyi Marta….Insaf Uper Wala hi karega Inka….

  32. रविश कुमार जी आपकी बात से कैसे सहमत हो सकते हैं आपने जब काग्रेश में इतने कांड हुए तब आप भी मौन थे अब आपकी दुकान खाली है और अपनी वाह वाही के लिए आप जैसे पत्रकार कुछ भी असत्य को सत्य साबित करने का प्रयास करते हैं हम भी ऐसे ही समाचार सुनते आऐ है आपने पहले साउथ की पत्रकार को लेकर ऐसे ही समाचार प्रकाशित किया और जब सत्यता आई आपके मुहं मे दही जम गई ।

  33. Ravish Kumar is a fraud reporter because this govt doesn’t shoot him so he bringing some details which he don’t have any evidence if he is confident he should with court should disclose publically so that truth should come out media has good power but these people are using media power in wrong way

  34. Inquiry under supervision of supreme court is required,very serious matter,very unfortunate,;this type of democracy is worst than English rule,soul / heart is crumbling,VERY sad

  35. बिलकुल सही कहा सच तो सच ही रहेगा भले देर से सामने आये! पर सामने आ के रहना चाहिए!

  36. Daud ibrahim se bade Don Gunde India me hain Bhaio o behno ! Pehchano … ek Modi aur doosre Amit shah yeh desh ko badi companies ke hathon kha jayenge ,
    Z…….
    Jago India jago

  37. Mr Ravish are you investigative journalist . There is police machinery who carry out exemplary work in the country . Leave this matter with them . You do your journalism with positive mind set .

    Anonymous

  38. It is a serious case in which Amit Shah was involved and judge death in mysterious cirmtances is clear indication of some thing very much foul play . This can only be solved if public is made aware and these cases are dealt in open courts .

  39. पत्रकारिता बेबाक व सचाई पर आधारित होनी चिहिए। वाकई रविश का उत्साह देखते ही बनता है, सब सु कुशल हो। जय भारत।

  40. Modi aur Amit shah ne to desh ko barbad kar diya.fir bhi desh ke bewakuf log support karne me lage hai.desh ki kanta ab to sudhar jao.amit shah ko to jail jaana hi chahiye.

  41. Sach samne aana chahiye. Isme media bahut kuch kar sakti hai. Lekin jyadatar media sarkar ki dalali kar rahi hai aur sahi baat ko bahar nahi aane de rahi hai.

  42. Lal Bahadur Shastri ji ki taskand mai dilka daura padne se maut ho gayi thi, pandit deendayal upadhyay ji ki chalti train mai maut ho gayi, bhai rajiv dixit ki bhi rahasyamay maut, rajesh paylet, madhav rao scindiya ki brand new plane crash mai maut… Aise aur bhi bahut udhahran hai jin ki baariki se jaanch honi chahiyee, lekin sab khamosh hai

  43. भारत की न्यायपालिका जाती धर्म के आधार फैसला सुनाती हैं

  44. Judiciary, media , opposition, Human Right , award returning gangs , tolerated peoples, RTI gangs, Didi nd keju . Why all they have frozen mouths since 2014.

  45. Great coverage ravishji. Agar sabh media vale responsibility se news dikathe Hain tho desh ki aadhe damasya hal hogi. Aur Sahi kaam karne vale state government ko desh ke bakhi log pahchan sakenge. Is taraf poori desh mein kranti ayengi.par BJP to yeh karne hi nahein denge. Is stithi mein aap gambhir vishay ko pardha kol Diya . Aap ko salute

  46. रवीश कुमार जी आप कांग्रेसी मानसिकता से ग्रसित पत्रकार हो तमाम प्रकार की फेक न्यूज़ तुम बनाते हो और भारतीय जनता पार्टी को बदनाम करने की कोशिश करते हो रवीश कुमार जी अगर भाजपा में इस प्रकार की गुंडागर्दी होती तुम्हारी औकात न होती इस प्रकार की खबर बनाने की

  47. Ravish bhai aap
    Sirf
    Aag laga sakte ho
    Solution nahi de sakte lekin itne dino me ek baat to samajh aati hai ki
    Aap sach nahi bolte ho
    Kabhi mere samne baith ke baat karna ye jo chhadamvaish ka pura sach logo ko pata lag jayega
    Aana kabhi samay mile to

  48. Sare andhe behre pagal Ravish ka chamche bane h. Ravish ko aise story banana hi he. Tabhi to usko mahina 8 lakh tankha mileage. Desh k janta jagrukh ho, tabhi ese jhute Hindu virodhi ko samjhenge.

  49. Judge ki murder ho gya. Desh ki media, janta, Supreme Court, political parties sab andhe h… Unko kuch nhi dikha. Ravish patrakar bade kabil h. Sab Jan Gaye, kacha jhut logonko paros diye. Kyuki NDTV Khangress khommunists ki dubta vavisya bachana h. Sarm Karo ye jhut ki poolinda bandhnewalo. Hum nhi bewakuf ab. 70 Saal bahut banaya.

  50. Ab ye fake news chali h… Kyuki Gujarat ki election h. Kabhi rohit Vemula ki suicide, ka hi akhlakh mian ki jhuti khabar, kabhi intolerance ki. Ab sir Gujarat dikha. Vote ese nhi milega Ravish jhute patrakar. Janta UP me Esa karara thapad diya h, jhute kamini kism ki news chalaoge. Kab tak. Janta tujhe ye dalali karne nhi degi. Sudhar Jao.Bharat Mata ki jai.

  51. Muge lagta hai jab padhamavti me kuch hota to senser bord khud karigh kar deti magar ayesa khuch bhi nahi hai sirf logo ko gumrah kiya ja raha hai judge ki mader ko Gujrat Election ko khuch naya karne ko baki aap khud samgddar hai jay hind

  52. Dekho ab kya such he kya nahi koi nahi janta media ko to masala chahiye. Aam aadmi kuch nahi kr sakta bus baat kar sakta he. Jaha tak ravish ji ki baat he mere khayal se inka channel anti government he. Iska matlab ye nahi ki vo jhoot bol rahe he ta such. Ye dekhne wali baat he. Mere khayal se opposition party ko lekar enquir karwa leni chahiye. Sub saaf ho jaiga. Aaj kal kaun such bol raha he ya jhoot aap nahi jaan sakte. Media vo hi dikhati he jo usko dikhana he govt ke favour ya against me.

  53. इंसाफ होना चाहिए. आज ईमानदार ओर cbi के स्पेशल जज की मोत को छुपा दिया गया है तो हम आम आदमी की तो बिसात ही क्या है. इंसाफ तो होना ही चाहिए.

  54. 2 some media working against Mr. Modi and Mr. Amit Shah and fey decided to criticised Government. I do not mind this type news. Thanks

  55. Ravish Ji,God bless you .sir Iam astonished where we have reached .Our entire system has already collapsed and last hope Judiciary is now also seems to be on the verge of collapse .Perhaps our rulers forget the history.Be courageous ,ask your media fellows life’s destination is death nobody can escape from this.So my earnest request is save this beautiful nation which only you can

  56. जजो की मौत से साफ जाहिर होता हैकि लोकतन्त्र बास्तब में खतरे में है

  57. Raviskumar Ji aap he onest news dikata ha kuch log chata ha ki es dash may aman santi na rah galat vichro ki sarkar hogi to un ka fayda ha jo amtsha na jo nyaydish ka mardar key ya karya ya sab galt ho raha h jab sa bjp party aai ha tab kisi ko emndari sa kam nahi karn da rahi jo Sach bolta ha us par dasdro rasuka lagta ha ya uska mardar karate ha loktantar ko katam karna chatay ha bjp party gundo or dasdrohi ki parti ha en ko dash ka vikas nahi dash ka lutana aata ha dash banana enko aata hi nahi

    • Comment: True
      परन्तु सच्चाई सामने आ सकती है या नहीं वर्तमान में कहना मुश्किल है।परन्तु जिस पत्रकार की हिम्मत को सलाम।

  58. मामला ये हो न हो लेकिन खुद को हिट करने और आर्थिक मदद के नाम पर पैसा कमाने का अच्छा तरीका अपनायी है इस पत्रिका और पत्रकार ने

  59. मौत से नही डरना चाहिए मरना एक दिन है ही अच्छे कार्य करने के लिए हमेशा मुश्किलो का सामना करना पडता है क्यू कि “बडी कठिन है डगर पनघट की “

  60. यह कह देना कि फलाना व्यक्ति हत्यारा या चोर होगा यह कहां की सत्यता है आप पत्रकार हैं इसका मतलब नहीं विना प्रमाण के कुछ भी लिख दे या बोल दे सत्यता को सिद्ध करें अन्यथा झूठा एवं भ्रम पत्रकारिता ना करें मात्र बोलने से या अपनी साफ-सुथरी छवि दिखाने से कोई बात सिद्ध नहीं होता चम्मच लोगों का काम ही है ताली बजाना लिंक देकर प्रमाण नहीं माना जाता और खबर फैलाकर आर्थिक सहायता नहीं मांगी जाती

    • Arey pandey ji hum bhi yahi to kahte hai ki jeetney media wale hai sab pramad kyu nahi dete, aap dekh lijiye ki ravish ke alawa lagbhag sabhi ek hi reporting karte hai sare chainal par, to mai kahta hu ki sohrat pane ke liye agar sachchai par koi rahkar naam kamaye to achhi baat hai aur aap bhi yeh punn kamaye .

  61. Hme bjp jaise gunde nhi chahye nikal do in sbko apne desh se bahr jo desh ko deemak ki tarah kha rhe hai doston yh hme pura nigal jaynge

  62. Ravish ji sabse pahle apko apke nirbhik patrakarita k liye dhanyawad,masla bada ho ya chota ho aap jis andaz me patrakarita karte hai wo kabil-e tarif hai.
    Loya ji k maut ki janch to bilkul honi hi chahiye,kyonki ye sadharan maut nahi hai,ye bahoot kayede se bilkul suniyojit tarike se ki gayi hatya prateet hota hai.
    Ravish ji iss ghtna ka hashra bhi Aarushi wale ghatna k jaisa nahi ho iska khayal rakha jaye,pura Desh apke sath hai.

  63. Fight for truth guilty person should be punished 100% whoever he may be if he is not punished no person in this world will dare to tell the truth and the valve of truth which are thought in school religion is of no use without truth tomorrow is very dificult

  64. रबीश जी लोकतंत्र के चौथा स्तम्भ जीवन्त बनाये रखें है, उन्हें इसका आभार प्रकट करता हूँ

  65. Chup madharchod bhosdi k teri behen ko v choda hoga sah ne randi ki aulad 60 years apna maa ka bhosda chat raha tha re madharchod avi teri ammi ki chut fat raha h bharwa

  66. Isi tarah modi Aur unke chacho ko dikhado ye log kitne nich hai apne phayede ke liye desh ko bech skte hai RSS to 1925 me tirnge ko beach diya tha

  67. सब बकबास देश को कमजोर करने वालो की यह कुप्रचार व साजिश लगती है। रबिश कुमार के अलांवा किसी ने यह खुलासा नही किया रबिश इस तरह की खबर गढने मे माहिर है।

  68. रवीश जी आप अपना काम इसी निर्भीकता से करते रहिए,वरना न जाने कितने लोगों को ऐसे ही मार डाला दिया जाएगा ।

  69. Ravish ji Aap hum Hindustan ki Awam se jo bhi kaho wo sunne wale nahi hai sab gaheri nind mei soye huye hai sirf unhe dikhai deta hai ye hindo hai ye musalim hai ye dalit hai inhe aur kuch dikhai nahi deta na sunai deta hum murde hai sirf do waqt ki roti ke liye uthte hai kha pi ke so jate hai aap jaise kuch log hai jo jinda hai hum jab nind se uthege to bahot der ho jayegi kyu ke ye haramkhor rajneta sab chor hai inke paas itni daulat hai ki inki 7 pidi bagair kaam kare Aaram se zindgi bita sakte phir bhi in logo ka pet nahi bharta ye Aadamkhor hai jab tak ye humara khoon nahi piyenge inhe chai nahi Aati

  70. Mr..RAVISH ji mai aapke saath hu…..
    मैं जानता हूं के आज हमारी जनता सो रही है लेकिन एक न एक दिन हमारी जनता ज़रूर जागेगी।

  71. रवीश जी, आप के स्टोरी को बड़े ध्यान से सुना। निष्कर्ष यही निकलता है कि जब न्यायपालिका , पत्रकारिता सुरक्षित नहीं है तो लगता है कि स्वतंत्र भारत पर भी स्वतंत्रता के खतरे का बादल छा रही है। जब जज लोया को इलाज के लिये ओटो रिक्शा पर ले जाया जा सकता है तो संदेह गहरा होना स्वभाविक है। अभी सुप्रीम कोर्ट के चार सीनियर जजों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर देश को वस्तुस्थिति से अवगत कराया तो राजनीतिक दलों में हाय तौबा होने लगी। लोकतंत्र पर आने वाले खतरों को देश के लोगों से साझा करने का अधिकार देश के हर नागरिक को है चाहे वह व्यक्ति कितनी भी उच्चे जगह पर काविज है। रवीश जी , मैं आपके इस जज्बे को सलाम करता हूँ।

  72. रविश जी
    आप ने जो दिखाया और जो कहा है….
    और किसी मे वह दम नही है…
    आप के इस कार्यक्रम को सफल हो

  73. Wo ek insaan Jo mujrim Tha Kal Tak /
    Wo a Hakim hamara ho Gaya hai //
    —————-
    WO MANN KI BAAT TO KARTA HAI LEKIN /
    KISI KE MANN KI WO SUNTA NAHEEN HAI
    ——————-
    QAATIL AB MUNSIFON MEIN SHAMIL HAI /
    KAUN HAHI JO USE SAZA DEGA //
    OO

  74. Saramsaar…
    Aise Democracy se to Talibaan bhala
    Sarm aani chahiye humare Rashtrapati, Nyaypalika, Sansad , Sanvidhaan sabhi ko inke rehte bhi aise kukarm Political power ke dum pe hi kar diye ja rhe hai…
    sarmnaak

  75. हमारी मीडिया बिक चुकी है और अब loktantra khatre में है !

  76. Utho, khade ho aur apni awaaz buland karo…
    Janta jab tak nahi jagegi tab tak ye rajnitik dal isi tarah se apne fayde k liye kisi kI bhi Bali chadate rahenge. Chahe wo justice loya ka mamla ho ya vyapam ki 50 moate ho, ye rajnitik dal kisi bhi hadd tak ka sakte h…
    Inko janta ki taaqat samjhana jaruri h, insaniyat ka phaath padana jaruri h. Ham sab jab milke galat cheezo ka purjor virodh karenge to hi in gandi rajniti walo ko samjh ayega…

  77. I heartly congratulate to Rabish which is things of dustbin but He became the more pricious than diamond fore the societies and he is showing true work and responsibility.God may u give the longest life

  78. यह खबर गुजरात मे हर आदमी जानता है पर दोनों ने वहां डर का
    माहोल बना रखा है कि किसी की बोलेने की हिम्मत ही नहीं होती,
    वहां के लोगों को लगता है कि इन दोनों के कारण ही हम ज़िंदा है
    वरना मुस्लिम लोग हमें मार डालेगे,पाकिस्तान ओर मुस्लिम का
    डर दिखाकर उन को दबा दिया गया है, आपने देखा नहीं चुनाव में
    हार को भाप कर ही मनमोहन सिंह तथा अहमद पटेल की कहानी
    बनाई उसीके कारण जिते वरना हार पकी थी । आप जैसे लोग ही पोल खोल सकते हैं जज लोया तो अभितक आखरी कड़ी है ,हरेन पढाया, सोराबुदिन, कोशर बीबी, प्रजापति, इशरत जहाँ तथा उसके चार साथी पता नहीं ओर कितने नाम हैं किसी के भी ह अपराधी का नाम आज तक सामने नहीं आया ऐसी है ये जुगलजोङी तभी तो मोदी के आते ही अमित शाह भी केन्द्र मे आ गया ।

  79. Ravish ji your a daring reporter . Bring out the truth and hang till death to all criminals who are connected in the murder of honorable judge Mr Loya .

  80. Aaj desh ko ndtv news Chanel our ravish jaise patrakaaro ki our unke vichar,soch ki jaroorat hai tabhi loktantra aabaad rahega . ab baki news Chanel kaha gaye. Salute ndtv news Chanel ki puri team ko.

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.