Home पड़ताल व्हाट्स ऐप पर हत्यारे शंभुलाल की पत्नी को आर्थिक मदद का ‘हिंदुत्ववादी’...

व्हाट्स ऐप पर हत्यारे शंभुलाल की पत्नी को आर्थिक मदद का ‘हिंदुत्ववादी’ अभियान !

SHARE

राजस्थान के राजसमंद में बंगाली ठेका मज़दूर मो.अफ़राजुल को धोखे से काटने और जलाने के बाद उसका वीडियो वायरल करने वाले शंभुलाल रैगर के जेल जाने के बाद अब उसे हिंदुत्व का हीरो बनाने का व्हाट्सऐप अभियान चल रहा है। शंभुलाल की पत्नी के बैंक अकाउंट में पैसे डलवाने के लिए संदेश वायरल किए जा रहे हैं।

शंभुलाल के पैशाचिक वीडिओ को देखने के बाद समाज का बड़ा हिस्सा धार्मिक उन्माद के ख़तरनाक परिणाम को लेकर चिंतित है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो शंभुलाल को हिंदुत्व नायक बतौर स्थापित कर रहे हैं। नोटबंदी से बर्बाद हुए शंभुलाल ने अफ़राजुल की हत्या के बाद जो वीडियो बनाया उसमें इसे लव जिहाद का बदला बताया था (हालाँकि उसकी बताई कहानी ग़लत साबित हुई है)। इसे लेकर हिंदुत्व की व्हाट्स ऐप इंडस्ट्री उत्साहित है। बाक़ायदा शंभुलाल की पत्नी का बैंक अकाउंट नंबर प्रसारित करके आर्थिक मदद की गुहार लगाई जा रही है।

हद तो ये है कि ऐसे कुछ व्हाट्स ऐप ग्रुप में बीजेपी के वरिष्ठ नेता भी शामिल हैं। इंडियन एक्सप्रेस ने कल ख़बर छापी थी कि ऐसे व्हाट्सऐप ग्रुप जिनमें शंभुलाल के पक्ष में अभियान चलाया जा रहा है, उसमें राजसमंद से बीजेपी के सांसद हरिओम सिंह राठौर और विधायक किरन माहेश्वरी भी जुड़े हैं। हालाँकि इन दोनों ने इसका खंडन किया है कि वे ऐसा कोई अभियान चलवा रहे हैं।

 

‘स्वच्छ राजसमंद, स्वच्छ भारत’ नाम के इस व्हाट्सऐप ग्रुप को बीजेपी के बूथ विस्तारक प्रेम माली चलाता है। और यह संयोग नहीं है।

बर्बरीक