Home पड़ताल कनाडा के एफएम रेडियो पर मोदी की आलोचना यानी नौकरी से छुट्टी!

कनाडा के एफएम रेडियो पर मोदी की आलोचना यानी नौकरी से छुट्टी!

SHARE
Shiv Inder Singh

केंद्र की एनडीए सरकार, भारतीय जनता पार्टी, आरएसएस और इनसे संबद्ध संगठनों व इनकी नीतियों के साथ असहमति रखने वाले पत्रकारों को नौकरी से निकाल दिया जाना या प्रताडि़त किया जाना भारत में बीते तीन साल के दौरान आम बात हो चुकी है, लेकिन ऐसा पहला मामला कनाडा के एक रेडियो स्‍टेशन से सामने आया है जो प्रवासी भारतीयों के लिए वहां सूचना पहुंचाने का काम करता है।


कनाडा के वैंकूवर स्थित रेडियो रेड (93.1) एफएम में पिछले दो साल से काम कर रहे पंजाब के पत्रकार शिव इंदर सिंह की सेवाएं इसलिए समाप्‍त कर दी गई हैं क्‍योंकि उन्‍होंने अपनी खबरों में मोदी सरकार की आलोचना की थी। रेडियो स्‍टेशन ने उनकी सेवाएं समाप्‍त करने में कनेडियन रेडियो-टेलीविज़न एंड टेलीकम्‍युनिकेशंस कमीशन (सीआरटीसी) के नियमों के उल्‍लंघन का हवाला दिया है।

शिव इंदर सिंह बीते 15 वर्षों से पंजाब के लुधियाना में रहकर स्‍वतंत्र पत्रकारिता कर रहे हैं। वे विदेश के कुछ रेडियो स्‍टेशनों को अपनी सेवाएं भी देते हैं और पंजाबी में सुही सवेर नाम की एक लोकप्रिय समाचार वेबसाइट चलाते हैं। शिव इंदर ने एक खुला पत्र लिखा है जिसे कई पत्रकारों और वेबसाइटों को भेजा है, साथ ही अपनी फेसबुक दीवार पर भी शाया किया है। पत्र का शीर्षक है ”मीडिया की कार्यप्रणाली में राजनीतिक दखलंदाज़ी और अभिव्‍यक्ति की स्‍वतंत्रता से छेड़छाड़ की कोशिश”। इस विस्‍तृत पत्र में उन्‍होंने बताया है कि सोमवार से गुरुवार रोज़ाना शाम के शो में वे समाचार बुलेटिन में भारत से समाचार अपडेट और टिप्‍पणी देने का काम कनाडा के रेड एफएम के लिए अक्‍टूबर 2014 से करते आ रहे थे। इसके लिए उनके साथ बाकयदा एक अनुबंध था कि वे वैंकूवर क्षेत्र के किसी औश्र रेडियो स्‍टेशन को ऐसी सेवाएं नहीं देंगे।

शिव इंदर के मुताबिक शाम के शो के एक प्रस्‍तोता विजय वैभव सैनी पिछले कुछ महीनों से उन्‍हें भारत सरकार की नीतियों के विरोध में टिप्‍पणी करने पर ”शर्मिंदा” कर रहे थे। उन्‍होंने लिखा है, ”कभी-कभार हमारे बीच गरमागरम बहस भी हुई जिसके चलते मैंने रेड एफएम के सीईओ कुलविंदर संघेरा से इसमें हस्‍तक्षेप करने की मांग की थी। ऐसा लगता है कि इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।”

वे लिखते हैं यह विवाद 27 जुलाई, 2016 को और मुखर हो गया जब ”मैंने शाम के शो में अतीत में भारत और पाकिस्‍तान के बीच हुई सैन्‍य झड़प के बारे में बताया। चूंकि भारत सरकार उस अध्‍याय की सालगिरह मना रही थी, लिहाजा मैंने श्रोताओं को इसक बारे में याद दिलाना बेहतर समझा।” इसके बाद सैनी और शिव इंदर के बीच बहस हुई और अगली सुबह समाचार शो के लिए अपडेट लेने के लिए उनके पास कनाडा से फोन नहीं आया। कई बार पता करने की कोशिश के बाद उन्‍हें पता चला कि तीन महीने के लिए प्रोग्राम को मुल्‍तवी किए जाने के कारण उनसे सेवाएं नहीं ली जा रही हैं। आखिरकार 3 अगस्‍त को हुई एक बैठक में सीईओ संघेरा ने उनके सहयोगियों को बताया कि कुछ श्रोताओं ने मोदी सरकार और भारतीय सेना की आलोचना पर आपत्ति जतायी है और यह कार्रवाई ”सीआरटीसी के कड़े नियमों के चलते की गई है जिसके तहत समुदाय के लोगों की भावनाओं को आहत नहीं किया जाना चाहिए”।

शिव इंदर ने इस संबंध में सीईओ को 15 अगस्‍त को एक मेल लिख कर पूछा था कि उन्‍होंने सीआरटीसी के मानकों का उल्‍लंघन कैसे किया है, लेकिन उसका जवाब अब तक नहीं आया है। वे लिखते हैं कि ऐसी ही एक घटना 2014 में रेडियो इंडिया 1600 एएम में हुई थी जब एक प्रमुख रेडियो प्रस्‍तोता के ऊपर मोदी का समर्थन करने और आलोचना बंद करने का दबाव बनाया गया था, जिसके बाद उसने इस्‍तीफा दे दिया था। उस वक्‍त शिव इंदर इस रेडियो के साथ काम करते थे इसलिए उन्‍हें इस घटना की पूरी जानकारी है। इसके बाद उन्‍होंने रेडियो इंडिया छोड़ दिया था और रेड एफएम में काम करने लगे थे।

शिव इंदर लिखते हैं कि उनकी प्रमुख चिंता यह है कि ”न केवल भारत में बल्कि दक्षिण भारतीय प्रवासियों के बीच भी मीडिया की कार्यप्रणाली में राजनीतिक दखलंदाजी की जा रही है… जिस तरह से सीआरटीसी का नाम इसमें घसीटा जा रहा है और पत्रकारों में बेमतलब का झूठा हौवा खड़ा किया जा रहा है, वह उसकी छवि को नुकसान पहुंचाने वाला है। इस मामले की जांच होनी चाहिए।”

 

24 COMMENTS

  1. शिव इंदर सिंह

     आप इस घटना के लिये कंपनी पर केस कर नुकसान भरपाई ले सकते है साथ ही गलत गलत तरीके से हटाने और प्रतीस्ठा को नुकसान के लिये भी हर्जाना माग सकते है इसके लिये आप सुपरीम कोर्ट का हाल मे ही आया निर्णय का भी उल्लेख कर सकते है 

    ये तो सरासर धोखागठी और गलत बयानी का मामला है कोई तो नियम होगा 

    कनाडा मे 

    आप लीगल एक्सपर्ट की सर्विस ले 

    आप ही जितेगें 

    कंपनी को बंद करने का दावा करे 

    घोर मिलीभगत है 

     

  2. Do you mind if I quote a couple of your articles as long as I provide credit and sources back to your weblog? My website is in the very same area of interest as yours and my users would genuinely benefit from some of the information you present here. Please let me know if this alright with you. Cheers!

  3. Hey are using WordPress for your blog platform? I’m new to the blog world but I’m trying to get started and create my own. Do you need any coding knowledge to make your own blog? Any help would be greatly appreciated!

  4. Oh my goodness! an incredible article dude. Thanks Nonetheless I am experiencing difficulty with ur rss . Don’t know why Unable to subscribe to it. Is there anybody getting identical rss problem? Anybody who knows kindly respond. Thnkx

  5. An exciting discussion is worth comment. I believe which you really should write much more on this subject, it might not be a taboo topic but typically people today aren’t sufficient to speak on such topics. Towards the next. Cheers

  6. Howdy, i read your blog occasionally and i own a similar one and i was just wondering if you get a lot of spam feedback? If so how do you stop it, any plugin or anything you can advise? I get so much lately it’s driving me insane so any assistance is very much appreciated.

  7. What’s Happening i am new to this, I stumbled upon this I’ve found It positively helpful and it has helped me out loads. I hope to contribute & aid other users like its helped me. Good job.

  8. I simply want to mention I am very new to blogs and honestly enjoyed your blog site. Very likely I’m going to bookmark your blog . You absolutely come with really good article content. Thanks for sharing your web site.

  9. Just want to say your article is as astounding. The clarity in your submit is just cool and i could suppose you are knowledgeable in this subject. Well with your permission allow me to grasp your RSS feed to keep up to date with forthcoming post. Thank you one million and please carry on the gratifying work.

  10. Aw, this was a actually good post. In concept I would like to put in writing like this moreover – taking time and actual effort to make a really excellent article… but what can I say… I procrastinate alot and by no means appear to obtain something performed.

  11. Hiya very nice blog!! Man .. Excellent .. Amazing .. I will bookmark your blog and take the feeds additionally…I am satisfied to seek out numerous helpful information here in the put up, we’d like work out extra techniques in this regard, thank you for sharing. . . . . .

  12. Hey there! This post couldn’t be written any better! Reading this post reminds me of my previous room mate! He always kept talking about this. I will forward this article to him. Pretty sure he will have a good read. Thanks for sharing!

  13. Write more, thats all I have to say. Literally, it seems as though you relied on the video to make your point. You obviously know what youre talking about, why waste your intelligence on just posting videos to your site when you could be giving us something informative to read?

  14. Unquestionably believe that which you stated. Your favorite justification seemed to be on the net the simplest thing to be aware of. I say to you, I certainly get annoyed while people consider worries that they plainly don’t know about. You managed to hit the nail upon the top and defined out the whole thing without having side effect , people could take a signal. Will likely be back to get more. Thanks

  15. After examine a number of of the weblog posts in your website now, and I actually like your manner of blogging. I bookmarked it to my bookmark website checklist and can be checking back soon. Pls take a look at my site as well and let me know what you think.

  16. Greetings from Colorado! I’m bored to tears at work so I decided to check out your site on my iphone during lunch break. I really like the knowledge you present here and can’t wait to take a look when I get home. I’m shocked at how quick your blog loaded on my phone .. I’m not even using WIFI, just 3G .. Anyways, wonderful site!

  17. wonderful issues altogether, you just gained a new reader. What might you suggest in regards to your publish that you just made some days in the past? Any certain?

  18. I’ve been surfing on-line more than three hours nowadays, yet I by no means discovered any interesting article like yours. It’s lovely value enough for me. In my opinion, if all website owners and bloggers made good content as you probably did, the internet might be much more useful than ever before.

  19. I don’t even know how I ended up here, but I assumed this publish was good. I don’t recognise who you might be however definitely you are going to a famous blogger if you happen to are not already 😉 Cheers!

  20. excellent points altogether, you just received a logo new reader. What could you recommend in regards to your submit that you just made a few days in the past? Any positive?

LEAVE A REPLY